suicide

दतिया, सत्येन्द्र रावत। भांडेर तहसील में भांडेर थाना पुलिस की कस्टडी से फरार होने वाले आरोपी ने ग्राम क्योलारी में अपने खेत पर फांसी लगाकर आत्महत्या (suicide) कर ली। बता दें कि इस मामले में रविवार को दो आरक्षकों को निलंबित कर दिया गया था। यहां पुलिस कस्टडी (custody) से हथकड़ी सहित दुष्कर्म आरोपी (rape accused) आरोपी राघवेंद्र वंशकार फरार हो गया था।

Damoh: पुलिस ने किया चोर गिरोह का खुलासा, दो चोर गिरफ्तार सरगना अभी भी फरार

आरोपी पर अपरहण और रेप का मामला दर्ज है। फरार होने के बाद उसने सोमवार को फांसी लगा ली। इस मामले में दतिया एसपी अमन सिंह राठौड़ ने कर्तव्य के प्रति लापरवाही एवं उदासीनता प्रदर्शित करने वाले आरक्षक 239 मुकेश दोहरे एवं आर. 581 मनीष दुबे थाना भांडेर को रविवार को निलंबित कर दिया था। इसी के साथ प्रकरण की जांच एसडीओपी सेंवढ़ा को 7 दिवस में पूर्ण किये जाने के लिए निर्देशित किया था। शनिवार की शाम आरोपी राघवेंद्र वंशकार निवासी भांडेर जिला अस्पताल से फरार हो गया था।

दरअसल नाबालिग का दुष्कर्म कर उसे भगा ले जाने का आरोपी राघवेंद्र पुत्र राजाराम वंशकार निवासी भांडेर पुलिस की हिरासत में था। उसे शुक्रवार की शाम पंडोखर तिराहा से गिरफ्तार किया गया था। आरोपी 15 जून की रात एक 17 वर्षीय नाबालिग किशोरी को बहला फुसलाकर घर से भगाकर ले गया था। साथ ही आरोपी ने नाबालिग के साथ दुष्कर्म किया था। इसी मामले में पुलिस ने इस फरार आरोपी को गिरफ्तार किया था जो एक बार फिर पुलिस को चकमा देकर भाग निकला। गिरफ्तार करने के बाद भांडेर पुलिस आरोपी को शनिवार की शाम जिला अस्पताल मेडिकल कराने लाई थी। तभी आरोपी पुलिस की कस्टडी से हथकड़ी सहित फरार हो गया और सोमवार को उसने अपने खेत में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली।