एक घंटे तक उसके साथ हुई हैवानियत, पुलिस थाने ने नहीं सुनी, महिला ने लगाई एसपी से गुहार

अब देखना ये है कि एसपी के निर्देश के बाद भी मुरार थाना पुलिस इस पीड़ित के साथ कितनी संजीदगी से पेश आती और कितने दिन बाद आरोपी को गिरफ्तार कर पीड़िता को इंसाफ दिला पाती है।   

ग्वालियर, अतुल सक्सेना। ग्वालियर के एसपी ऑफिस (SP Office) की जन सुनवाई (jan sunvai) में वैसे तो कई तरह के मामले लेकर पीड़ित पहुंचे। लेकिन एक पीड़िता के साथ हुई घटना ने सबकी संजीदा कर दिया। जन सुनवाई में एक दुष्कर्म पीड़िता (Rape Victim) भी पहुंची। पीड़िता  शिकायत की कि एक आरोपी ने घर में घुसकर कट्टा दिखाकर उसके साथ दुष्कर्म किया। करीब एक घंटे तक उसने  हैवानियत की। वो शिकायत लेकर पुलिस थाने पहुंची लेकिन मुरार थाना पुलिस ने उसकी नहीं सुनी। रोती बिलखती महिला ने आज एसपी ऑफिस पहुंचकर गुहार लगाई है।

एसपी ऑफिस में जन सुनवाई के दौरान एक महिला फुट फुट कर रो रही थी। मुरार थाना क्षेत्र में रहने वाली पीड़िता के के आंसू और उसका रुँधा हुआ गला उसके साथ हुई ज्यादती बयां करने के लिए काफी था।  उसने रो रोकर अपनी परेशानी बताई। पीड़िता ने कांपती आवाज में रट हुए बताया कि 2 सितम्बर की रात एक युवक 11 बजे उसके घर पर आया, उसने गेट खोला तो युवक ने कट्टा अड़ा दिया, मेरे घर में उस समय कोई नहीं था। आते ही उसने मेरे साथ गलत हारकर करनी शुरू कर दी।  वो 11 बजे आया और 12 बजकर 20 मिनट पर गया। इस दौरान उसने  घंटे तक हैवानियत की।  उसने मेरे बदन के साथ जो किया मैं बता नहीं सकती।

ये भी पढ़ें – उद्योग विभाग का क्लर्क 3000 रुपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार, लोकायुक्त की कार्रवाई

अब खास बात ये है कि मीडिया को मर्यादित शब्दों में रोते हुए अपनी पीड़ा बताने वाली महिला ने घटना के बाद मुरार पुलिस थाने में शिकायत की। पुलिस ने उससे हर बात खोद खोद कर पूछी लेकिन एक रूटीन घटना समझकर महिला को चलता कर दिया। घटना के बाद से भय और ग्लानि से भरी महिला के घाव पुलिस को महसूस नहीं हुए।

ये भी पढ़ें – सिरफिरे आशिक ने की स्कूली छात्रा की हत्या, आरोपी की तलाश में जुटी पुलिस

परेशान पीड़ित महिला आज मंगलवार को एसपी की जन सुनवाई में पहुंची उसने वहां आवेदन दिया। यहाँ एसपी अमित सांघी ने बताया कि जन सुनवाई में हमेशा की तरह कई तरह के मामले आये, कई मामलों में शिकायत के बाद भी गिरफ़्तारी नहीं होने की बात सामने आई।  इसके अलावा जमीन सम्बन्धी, पति पत्नी के विवाद , फ्रॉड, थाने में शिकायत के बाद भी कोई सुनवाई नहीं जैसे मामले भी आये जिसमें सम्बंधित अधिकारियों को उचित कार्रवाई के निर्देश दे दिए गए हैं।

ये भी पढ़ें – Gwalior News: सिंधिया समर्थक भाजपा नेता पर जानलेवा हमला, फायरिंग कर बदमाश फरार

बहरहाल अब देखना ये है कि एसपी के निर्देश के बाद भी मुरार थाना पुलिस इस पीड़ित के साथ कितनी संजीदगी से पेश आती और कितने दिन बाद आरोपी को गिरफ्तार कर पीड़िता को इंसाफ दिला पाती है।