इटारसी, राहुल अग्रवाल| बाजार की बदहाल व्यवस्था को पटरी पर लाने एसडीएम के साथ, नगर पालिका और पुलिस के लगातार प्रयासों को दुकानदार पलीता लगाने में पीछे नहीं हैं। कई चेतावनी और समझाईश के बावजूद दुकानदार केवल उतनी देर हद के भीतर रहते हैं, जब तक अमला बाजार में रहता है। इसके बाद व्यवस्था पुनः बेपटरी हो जाती है। प्रशासन ने चेतावनी भी दे दी कि यदि बार-बार समझाईश के बाद भी जो दुकानदार हद से बाहर सामान रखते हुए मिलता है तो उसके लिए मुश्किल हो जाएगी। अब उन पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है।

आज शुक्रवार को नायब तहसीलदार पूनम साहू के नेतृत्व में नगर पालिका के राजस्व अमला में सहायक राजस्व निरीक्षक विकास वाघमारे की टीम और यातायात पुलिस उपनिरीक्षक नागेश वर्मा की टीम ने फल और सब्जी बाजार सहित अन्य बाजार की व्यवस्था दुरुस्त करने अभियान शुरु किया सब्जी और फल बाजार में निर्धारित स्थल से अलग दुकान लगाने वाले पांच फल विक्रेताओं के सामान की भर्ती बनायी और फिर जुर्माना लेकर ही छोड़ा।

नपा, राजस्व और पुलिस की टीम बाजार की सड़कों पर उतरी और हद से बाहर दुकान लगाकर बैठे व्यापारियों से तथा बिना मास्क बाजार आए लोगों पर कार्रवाई करना शुरु की तो फिर ये लोग छिपते-छिपाते नजर आये। दरअसल, लोग किसी तरह की कार्रवाई के बावजूद अपना मनमाना रवैया छोडने को तैयार नहीं हैं। यदि प्रशासन कड़ी कार्रवाई करने पर उतर आए तो इनको यह प्रिय लगेगा। लोग अब मास्क जेब में लेकर घूमते हैं और जैसे ही अमला दिखता है, मास्क निकालकर लगा लेते हैं।पचास लोगों पर किया जुर्माना बाजार में बिना मास्क लगाये घूम रहे लोगों के अलावा कुछ दुकानदार और समझाईश के बावजूद नियम तोडने वालों पर नगर पालिका के राजस्व अमले ने जुर्माने की कार्रवाई की है। कुछ लोगों के सामान की जब्ती बनायी है तो उसे भी जुर्माना लेकर ही छोड़ा है। जो लोग मास्क लगाए नहीं मिलते उनसे सौ रुपए जुर्माना वसूला जा रहा है। बावजूद इसके लोगों के किसी प्रकार का कोई डर नहीं है। बाजार में दुकानदार भी मास्क नहीं लगा रहे हैं और ना ही अपने कर्मचारियों को मास्क लगाने को कह रहे हैं।