DAVV प्रशासन ने पुलिस कमिश्नर से की मुलाकात, पेपर लीक मामले के दोषियों को सजा दिलवाने की करी मांग

धरना प्रदर्शन और विश्वविद्यालय पर लगने वाले आरोप को लेकर कुल सचिव ने कहा कि यह चिंता का विषय है क्योंकि महाविद्यालय में पेपर पहले ही पहुंचा दिए जाते हैं। इसे लेकर पुलिस की मदद ली जा रही है।

Indore DAVV News : मध्य प्रदेश के इंदौर में देवी अहिल्या विश्वविद्यालय (DAVV) में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने MBA फर्स्ट सेमेस्टर के परीक्षा में आउट ऑफ सिलेबस क्वेश्चन पूछे जाने के विरोध में प्रदर्शन किया था। बता दें कि एग्जाम के 1 दिन पहले ही क्वेश्चन पेपर आउट हो गया था, जिसे लेकर विद्यार्थियों ने मौजूद अधिकारियों को लिखित ज्ञापन सौंपा था। जिसपर विश्वविद्यालय प्रबंधन ने कड़े कदम उठाते हुए पुलिस कमिश्नर राकेश गुप्ता से मुलाकात की और झोन के डीसीपी अभिनय विश्वकर्मा को लिखित आवेदन देते हुए दोषियों को ढूंढने और सख्त सजा दिलाने की मांग की गई है। आइए विस्तार से जानते हैं पूरा मामला…

DAVV प्रशासन ने पुलिस कमिश्नर से की मुलाकात, पेपर लीक मामले के दोषियों को सजा दिलवाने की करी मांग

उप कुल सचिव ने कही ये बात

MBA 1st सेमेस्टर के पेपर लीक मामले में विश्वविद्यालय की उप कुल सचिव रचना ठाकुर ने बताया कि पिछले दिनों इंदौर पुलिस कमिश्नर राकेश गुप्ता से मुलाकात की। आगे उन्होंने बताया कि मामले में आवेदन सौंप कर जल्द कार्रवाई करने की मांग की गई है। साथ ही एफआईआर कराने और दोषियों को ढूंढ कर सख्त सजा दिलाने की बात भी आवेदन में लिख गई है। वहीं, पुलिस अधिकारियों ने विश्वविद्यालय को आश्वस्त किया है कि तत्काल ही मामले में मुकदमा दर्ज कराकर आगे की वैधानिक कार्रवाई की जाएगी।

जांच जारी

वहीं, धरना प्रदर्शन और विश्वविद्यालय पर लगने वाले आरोप को लेकर कुल सचिव ने कहा कि यह चिंता का विषय है क्योंकि महाविद्यालय में पेपर पहले ही पहुंचा दिए जाते हैं। इसे लेकर पुलिस की मदद ली जा रही है। पत्रकारों द्वारा पुलिस द्वारा साक्ष मांगे जाने के सवाल पर रचना ठाकुर ने कहा कि हमने जब आवेदन दिया, तो पुलिस ने हमसे सम्बंधित मामले में दस्तावेज मांगे हैं, जो उन्हें उपलब्ध कराए जाएंगे। विश्वविद्यालय की आंतरिक समिति भी पूरे प्रकरण में जांच कर रही है। आगे उन्होंने यह भी कहा कि इस पूरे मामले में जिस किसी महाविद्यालय का नाम आएगा, उसके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इंदौर से शकील अंसारी की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है।पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News