इंदौर पुलिस ने भरवाया अनूठा शपथ पत्र ताकि न करे कोई कर्फ्यू का उल्लंघन

खजराना पुलिस ने उल्लंघन कर घूमने वालों को एक पेन और पेपर दिया और किसी से 10 बार तो किसी से 20 दफा ये लिखवाया गया कि हम जनता कर्फ्यू का पालन करेंगे और घर से बाहर नही निकलेंगे।

इंदौर

इंदौर, आकाश धोलपुरे। इंदौर (indore) में पुलिस ने अनोखा शपथ पत्र भरवाने की मुहीम शुरू की है। कहते है 100 बका (बोलना) और 1 लिखा काम आता है यानी कि मौखिक तौर पर कुछ भी बोला जाए लेकिन लिखी हुई बात कानूनी तौर पर पुख्ता मानी जाती है। बस इसी बात का अनुसरण करते हुए लोगों से जनता कर्फ्यू (janta curfew) का पालन इंदौर पुलिस करवा रही है। दरअसल, इंदौर के खजराना थाना क्षेत्र के मुख्य खजराना चौराहा पर बेवजह घूमने वाले लोगों की आज पुलिस (police) ने अनूठी परीक्षा ले डाली। पुलिस ने बकायदा बेवजह घूमकर कर्फ्यू का उल्लंघन करने वाले लोगों को पहले तो रोका और गैरजरूरी तौर पर घुमने वालों को अनूठी सजा दी जिसे वो ताउम्र याद रखेंगे। खजराना पुलिस ने उल्लंघन कर घूमने वालों को एक पेन और पेपर दिया और किसी से 10 बार तो किसी से 20 दफा ये लिखवाया गया कि हम जनता कर्फ्यू का पालन करेंगे और घर से बाहर नही निकलेंगे। कई लोग चौराहा पर डिवाइडर (divider) पर पेपर रख लिखते भी नजर आए की वाकई उनसे बड़ी गलती हुई है जिसे वो अब कभी नही दोहराना चाहेंगे।

यह भी पढ़ें… राहुल गांधी ने पीएम मोदी को लिखा पत्र, कहा- देश कोरोना सुनामी की गिरफ्त में, हरसंभव कदम उठाएं

खजराना थाना प्रभारी दिनेश वर्मा ने बताया कि शुक्रवार को चेकिंग के दौरान कई लोग बेवजह घूमते नजर आए जिसके बाद पुलिस ऐसे लोगो से पूरे पेज पर लिखवा रही है कि वो कर्फ्यू तोड़ने जैसी गलती दोबारा नही करेंगे इसके साथ ही उन्हें मामूली सजा भी दी गई ताकि उनको ये अहसास हो जाये कि लोग गलत कर रहे है। वही जो लोग बहस कर रहे है और गलत कर रहे है उनको बस के माध्यम से अस्थायी जेल भी भेजा जा रहा है।

यह भी पढ़ें… इंदौर: हड़ताली डॉक्टरों और प्रशासन के बीच समन्वय स्थापित कराने के प्रयास , प्रभारी मंत्री ले रहे बैठक

फिलहाल, कोरे कागज पर शपथनुमा शब्दो के जरिये पुलिस ऐसे लोगो को दंडित कर रही है जो बेवजह कोरोना के फेर में उलझ सकते है वही पुलिस के इस कदम की तारीफ हर जगह हो रही है।