इंदौर में लूट की वारदात को अंजाम देने वाले दो शातिर लुटेरों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

Amit Sengar
Published on -
indore rajendra nagar police station

Indore News : शहर में अपराधों और अपराधियों पर शिंकजा कसने जिसमें चोरी, नकबजनी, लूट, मोबाइल स्नैचिंग आदि की वारदातों पर अंकुश लगाने के लिए वरिष्ठ अधिकारियों द्वारा प्रभावी कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं, मिले निर्देश पर पर कार्रवाई करते हुए पुलिस थाना राजेंद्र नगर द्वारा राहगीरों से मोबाइल लूट की वारदातों को अंजाम देने वाले 2 शातिर लुटेरों को गिरफ्तार करने में सफलता प्राप्त की है।

यह है पूरा मामला

पुलिस थाना राजेन्द्र नगर की पुलिस टीम ने मुखबिर से जानकारी मिली और सूचना के आधार पर सिलीकान सिटी के आगे बायपास की और जाने वाले कच्चे रास्ते पर से दो व्यक्ति को एक बिना नंबर की स्कूटी के साथ पकड़ा गया। आरोपियों को पकड़कर स्कूटी चेक करने पर डिक्की में से एक वन प्लस कंपनी का मोबाइल मिला। जब दोनों व्यक्तियो का नाम पता पूछने पर उन्होने अपना नाम नाना उर्फ नरेन्द्र निवासी अहीरखेडी तथा दूसरे ने अपना नाम सुरेश उर्फ गब्बर निवासी विदुर नगर बताया। स्कूटी एवं मोबाइल के बारे मे पूछताछ करते कोई संतोषप्रद जवाब नहीं दिया गया। तथा दोनों के द्वारा ना ही कोई दस्तावेज प्रस्तुत किए गए दोनो से मोबाइल के बारे में पूछताछ करने पर उन्होंने बताया कि यह मोबाइल चोरी का है। जिसे हम बेचने के लिए खडे है, मोबाइल का आईएमईआई नंबर चेक करने पर तथा पूर्ण संदेह होने पर जप्त किया तब जाकर अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।

Continue Reading

About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”