आंखों पर काली पट्टी बांधकर छात्र नेता ने जताया विरोध, कुलपति को सौंपा ज्ञापन

कुलपति खुद छात्र नेता से समस्याएं सुनने मुख्य द्वार पर पहुंची और लिखित ज्ञापन लेकर हो रही असुविधा को दुरुस्त करने का आश्वासन दिया।

Amit Sengar
Updated on -
indore news

Indore News : देवी अहिल्या विश्व विद्यालय इंदौर में बुधवार को छात्र नेता ने प्रदर्शन में अनोखा तरीका अपनाया और अपनी आंखों पर काली पट्टी बांधकर कुलपति के समक्ष जा खड़े हुए हालांकि छात्र नेता को मोके पर मौजूद पुलिस का सामना करना पड़ा कुलपति तक पहुंचने के लिए कुछ समय के बाद कुलपति प्रोफेसर रेनू जैन मुख्य द्वार पर आई और छात्र नेता से काली पट्टी बांधे जाने को लेकर सवाल करते हुए उनकी समस्या भी सुनी और ज्ञापन लेकर छात्र नेता को आश्वस्त किया।

क्या है पूरा मामला

बता दें कि देवी अहिल्या विश्वविद्यालय से संबद्धता रखने वाले कॉलेज के छात्रों को समय पर समस्याओं का समाधान नहीं मिलने संबंधित शिकायतों को लेकर छात्र नेता आंखों पर काली पट्टी बांधकर देवी अहिल्या विश्वविद्यालय लिखित शिकायत लेकर जा पहुंचे छात्र नेता को रोकने के लिए नजदीकी थाने का पुलिस बल पूरे समय मौका पर मौजूद रहा और छात्र नेता कुलपति से मिलने के लिए बेताब दिखाई दिए काफी जद्दोजहद के बाद कुलपति खुद छात्र नेता से समस्याएं सुनने मुख्य द्वार पर पहुंची और लिखित ज्ञापन लेकर हो रही असुविधा को दुरुस्त करने का आश्वासन दिया।

Continue Reading

About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”