जबलपुर, संदीप कुमार| राज्‍यसभा सदस्य, पूर्व केंद्रीय मंत्री और भाजपा नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया (Jyotiraditya Scindia) मंगलवार को राष्‍ट्रीय स्‍वयं संघ मुख्यालय (RSS Office) पहुंचे। सिंधिया के नागपुर दौरे को लेकर सियासत गरमा रही है| प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस के सांसद दिग्विजय सिंह (Digvijay Singh) ने सिंधिया के संघ मुख्यालय में जाने पर हमला बोला है।

जबलपुर पहुंचे दिग्विजय सिंह ने कहा कि आमतौर पर नागपुर जाने वाले लोग बाबा साहब अंबेडकर के स्मारक पर जाते हैं, हम बाबा साहेब अम्बेडकर के श्रद्धालु हैं, वहीं जाते हैं| लेकिन, जो बाबा साहेब अम्बेडकर का विरोध करते हैं, वो संघ कार्यालय जाते हैं| हम लोग नागपुर जाकर बुद्धम् शर्णम् गच्छामी की प्रार्थना करते हैं, सिंधिया जी प्रार्थना संघम् शर्णम् गच्छामी करते हैं|

बीजेपी और संघ को ठीक से जवाब नहीं दे पा रहे
सेवादल के कार्यक्रम में पहुंचे कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह का कहना है कि कांग्रेस वैचारिक रूप से भाजपा और संघ का सामना नहीं कर पाती जैसा कि करना चाहिए। ट्रेनिंग प्रोग्राम ना होने के कारण हम पिछड़े हैं। जिस तरह से जवाब देना चाहिए हम नहीं दे पा रहे हैं। भाजपा पर निशाना साधते हुए दिग्विजय बोले भाजपा का धर्म से कोई लेना-देना नहीं है| भाजपा धर्म का उपयोग हथियार के रूप में करती है।

सुप्रीम कोर्ट और प्रशांत भूषण के मामले पर कहा प्रशांत भूषण वरिष्ठ वकील बिना प्रमाण के बात नहीं करते। जस्टिस गोगोई ने तत्कालीन सीजेआई की वर्किंग के खिलाफ की थी प्रेस कान्फ्रेंस क्या वह कंटेंप्ट ऑफ कोर्ट नहीं बनता।

कांग्रेस में अंतर्कलह पर बोले
कांग्रेस पार्टी में जारी कलह पर दिग्विजय ने कहा CWC की वर्चुअल मीटिंग की बात बाहर नहीं आनी चाहिए थी। गुलाम नबी आजाद, आनंद शर्मा को पत्र लिखने की क्या आवश्यकता थी। कांग्रेस देश की सबसे बड़ी विपक्षी पार्टी। हमारी लड़ाई भाजपा से है ऐसे में कोई भी मौका नहीं देना चाहिए जिसमें बीजेपी को मौका मिले। सोनिया गांधी का हमें नेतृत्व मिला हुआ है जिसका हमें गर्व है। गांधी परिवार के दो लोगों ने बलिदान दिया। उनके नेतृत्व पर किसी को आपत्ति नहीं होना चाहिए|

जनमत को करोड़ों रुपए में खरीदा जा रहा
प्रदेश भाजपा पर आरोप लगाते हुए दिग्विजय ने कहा कि सरकार बनाने कांग्रेस के विधायकों को खरीदा गया। जिन लोगों ने पैसे लिए उनके नाम मालूम। जनमत को करोड़ों रुपए में खरीदा जा रहा। उपचुनाव में सबक सिखाया जाएगा ।