MP में लोकायुक्त का शिकंजा, सहकारी बैंक का अधिकारी 1.50 लाख की रिश्वत लेते धराया

MP

झाबुआ, डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश (MP) में एक बार फिर भ्रष्टाचार (Corruption) पर बड़ी कार्रवाई हुई है। झाबुआ में इंदौर लोकायुक्त की टीम ने जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के महाप्रबंधक को डेढ़ लाख की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।कार्रवाई के बाद से ही बैंक में हड़कंप मच गया है। यह रिश्वत (Bribe) फसल बीमा योजना (Crop Insurance Policy) के लिए मांग जा रही थी।

यह भी पढ़े.. MP Weather: अगले 48 घंटों में बदलेगा मौसम, इन जिलों में भारी बारिश के आसार

मिली जानकारी के अनुसार, इंदौर लोकायुक्त टीम (Indore Lokatut Team) ने झाबुआ जिला सहकारी केंद्रीय बैंक के महाप्रबंधक डीआर सरोटिया को 1 लाख 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार किया है।आरोप है कि महाप्रबंधक ने फसल बीमा योजना के नाम पर 3 लाख की रिश्वत की मांग थी, इसमें से डेढ़ लाख वह पहले ही दे चुका था और अब महाप्रबंधक द्वारा बाकी के 1 लाख 50 हजार की मांग की जा रही थी, जिसकी शिकायत काली देवी सहकारी बैंक के प्रबंधक बेल सिंह ने इंदौर लोकायुक्त से की थी।

यह भी पढ़े.. कर्मचारियों में बढ़ रहा आक्रोश, 28 फीसदी DA की मांग तेज, अनिश्चिकालीन आंदोलन की चेतावनी

इसके बाद इंदौर लोकायुक्त की टीम ने मामले की जांच की और पुष्टी होने पर योजना बनाकर आज शनिवार को फरियादी से रिश्वत के डेढ़ लाख रुपए लेते हुए रंगेहाथों गिरफ्तार कर लिया।कार्रवाई के बाद से ही जिला सहकारी केंद्रीय बैंक (District Co-operative Central Bank) में हड़कंप मचा हुआ है।