Khargone : अंग्रेजी ब्रांड की नकली शराब बनाने वाला गिरोह पकड़ाया, हो सकते हैं बड़े खुलासे

3 आरोपी गिरफ्तार, बड़ी तादाद में अवैध शराब बनाने की सामग्री जब्त

खरगोन, बाबूलाल सारंग। खरगोन (Khargone) में जहरीली शराब से मौत के बाद पुलिस ने अंग्रेजी ब्रांड की नकली जहरीली शराब बेचने वाले गिरोह को पकड़ा है। पुलिस ने इनके पास से भारी मात्रा मे अवैध तरीके से शराब बनाने की सामग्री व संसाधन जब्त किए गए हैं। बता दें कि सनावद थाना क्षेत्र के ढकलगांव से खाटू श्याम जी (Khatushyam Temple) में दर्शन करने जा रहे 17 व्यक्तियों में से दो व्यक्तियों की मौत जहरीली शराब ((poisonous alcohol)) के कारण हो गई थी। इस मामले के तार इंदौर शराब माफिया से जुड़े होने की आशंका भी जताई जा रही है।

Read also…Indore News: 5 मौतों के बाद खुली आबकारी विभाग की कुम्भकर्णी नींद, लाखों की शराब बरामद

Khargone : अंग्रेजी ब्रांड की नकली शराब बनाने वाला गिरोह पकड़ाया, हो सकते हैं बड़े खुलासे

खरगोन पुलिस ने अंग्रेजी शराब के ब्रांड लेबल पर नकली शराब बेचने वाले आरोपियों को रंगे हाथों पकड़ा। आरोपियों के कब्जे से भारी मात्रा मे अवैध रूप से शराब बनाने की सामग्री व संसाधन भी मोरटक्का क्षेत्र से बरामद किए है। शुक्रवार को बड़वाह पुलिस थाने पर पुलिस अधीक्षक शैलेन्द्र सिंह चौहान व बड़वाह थाना प्रभारी संजय द्विवेदी ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया कि ग्राम ढकलगाँव से 17 व्यक्तियों का दल 25 जुलाई को राजस्थान के सांवरियाजी और खाटू श्याम जी के दर्शन करने के लिए गया था। इनमें से रूपेश नामक एक व्यक्ति ने सनावद में अवैध शराब बेचने वाले एक युवक लक्की जैसवाल से शराब खरीदी थी। बड़वाह के बाद से ही रूपेश, नरेंद्र, निलेश, ईश्वर और जय ने शराब पीना शुरू कर दिया था। 26 जुलाई को नयागांव बॉर्डर पर ही शराब पीने वाले पांचों को उल्टी, दस्त व चक्कर आना शुरू हो था। अस्पताल में उपचार के दौरान नरेंद्र की मृत्यु हो गई। चित्तौड़गढ़ पहुंचने से पहले रुपेश की भी तबीयत खराब हो गई थी। इसे अस्पताल ले जाने पर डॉक्टर द्वारा मृत घोषित कर दिया गया। वर्तमान मे ईश्वर का उदयपुर में और नीलेश का उपचार इंदौर के अस्पताल मे चल रहा है, जय का स्वास्थ ठीक होने से उसे घर भेज दिया है।

जहरीली शराब पीने से 2 युवकों की मृत्यु व 3 युवकों की तबीयत खराब होने की घटना की सूचना प्राप्त होते ही पुलिस महानिरीक्षक इंदौर जोन हरिनारायणचारी मिश्र ने खरगोन एसपी शैलेन्द्र सिंह चौहान को टीम का गठन करके आरोपियों पर कार्रवाई करने के निर्देश दिए थे। दोषी आरोपियों की गिरफ़्तारी हेतु गठित एसआईटी टीम (SIT Team) द्वारा आरोपियों के संभावित स्थानों पर घेराबंदी कर दबिश दी गई। इसमें 27 वर्षीय लक्की उर्फ गौरव को गिरफ्तार किया गया। उसने पूछताछ पर 24 वर्षीय रोहित प्रजापति से शराब लेना बताया। इसके बाद आरोपी के कब्जे से भारी मात्रा मे शराब निर्मित करने की सामग्री जब्त किए गए।