मंदसौर/तरूण राठोड़

शहर में जिस बात की आशंका थी वही हुई, मंगलवार को तेज बारिश में शहर के लगभग सभी क्षेत्र में बारिश का पानी जमा हो गया। ये सब नगरपालिका की उदासीनता की वजह से हुआ क्योंकि उन्होंने समय रहते नगर में स्थित नालों ओर नालियोंं की सफाई नहीं कराई और अधूरे पड़े नालो का समय पर निर्माण नहीं कराया। जिससे बारिश होते ही वो चोक हो गए। बारिश का पानी सड़कों पर भर गया और देखते ही देखते रोड तालाब में तब्दील हो गई।

इतना ही नहीं, तेज हवा के चलते शहर में कई स्थानों पर पेड़ भी गिर गए जिस कारण रास्ता ब्लॉक हो गया। गनीमत ये रही की इस घटना में कोई हताहत नहीं हुआ। परंतु उस क्षेत्र की विद्युत लाइन प्रभावित हुई है। क्योंकि ये लाइन इन पेडों के बीच से होकर गुजरती है और पेड़ गिरने की वजह से क्षतिग्रस्त हो गई है। नयापुरा रोड, श्रीकोल्ड चौराहे सहित शुक्ला चौक सहित अनेक स्थान है कई कालोनियों में भी जलभरावव की स्थिति बनी हुई है। इन हालात ने पिछली बारिश की याद दिला दी है क्योंकि पिछली बारिश में भी यही स्थितियां बनी थी। लोगों ने काफी नुकसान उठाया था जिसका मुआवजा उन्हें आज तक नहीं मिला है। लेकिन फिर भी प्रशासन ने सबक नहीं लिया और कोई कोई ठोस कदम नहीं उठाया। इस बारिश में भी  हालत एक बार फिर वैसे ही बनते नजर आ रहे हैं।