ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की रफ़्तार धीमी होने के साथ अब ग्वालियर (Gwalior) के लोगों को और अधिक राहत यानीं छूट दिए जाने की उम्मीद बढ़ गई है।  मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ वीसी के बाद कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने इस बात के संकेत दिए हैं।  हालाँकि उन्होंने कहा कि कोरोना गाइड लाइन का पालन करना सबके लिए आवश्यक होगा।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (CM Shivraj Singh Chauhan) ने आज रविवार को प्रदेश के सभी जिलों की क्राइसिस मैनेजमेंट ग्रुप के सदस्यों के साथ वीसी की। बैठक में मौजूद ग्वालियर सांसद विवेक नारायण शेजवलकर (Gwalior MP Vivek Narayan Shejwalkar) ने सभी की तरफ से सुझाव सीएम शिवराज के सामने रखे।  सांसद विवेक शेजवलकर ने सुझाव रखते हुए कहा कि अब हमें मॉल खोल देना चाहिए, वैक्सीनेशन की बंदिश और प्रवेश संख्या निर्धारित की जा सकती है ।

ये भी पढ़ें – Driving Licence: अब बिना RTO टेस्ट के बनेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानें क्या है नए नियम

सांसद विवेक शेजवलकर ने कहा कि कोचिंग क्लासेज ओर जिम को भी 50 प्रतिशत क्षमता के साथ खोला जाना चाहिए  यहाँ भी वैक्सीनेशन और संख्या की बंदिश लगाई जा सकती है। मैरिज गार्डन में 100 लोगों की संख्या कोविड के नियमों का पालन करने की शर्त पर अनुमति दी जाना आवश्यक है जिससे लोगो के परिवार में खुशियां आना प्रारम्भ हो और मध्यम और अति मध्यम तबका इस मैरिज सीजन से जुड़ा होता है उसको भी रोजगार मिले जिससे उनके चेहरों पर भी खुशियां आये।  मुख्यमंत्री को ग्वालियर के बाजारों को शाम 5 बजे की जगह 8 बजे तक खोले जाने का सुझाव भी दिया गया है।

ये भी पढ़ें – फारुख अब्दुल्ला ने किया दिग्विजय का समर्थन, सीएम शिवराज ने कही ये बड़ी बात

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह  ने बताया कि कुछ और छूट दिए जाने का प्रस्ताव भेजा है।  अब शासन की गाइडलाइन के हिसाब से आगे की बैठक में छूट दिए जाने पर विचार किया जाएगा। उन्होंने कहा कि छूट अवश्य मिलेगी लेकिन सभी लोगों को कोरोना गाइड लाइन का पालन अवश्य करना होगा।

ये भी पढ़ें – छात्रों के लिए खुशखबरी- अब सोनू सूद करवाएंगे IAS की तैयारी, यहां देखें पूरी डिटेल्स