Morena News : स्टोन कटिंग फैक्ट्री पर छापा, अवैध पत्थर जब्त, फैक्ट्री सील

इस कार्रवाई के बाद अब मुरैना वन विभाग के अधिकारियों की जांच पर प्रश्नचिन्ह लग गया है।

मुरैना, संजय दीक्षित। मुरैना (Morena News) जिले के बानमोर में स्टोन कटिंग फैक्ट्री (Stone cutting factory) में वन विभाग (Forest department) की स्पेशल टीम ने छापा मार कार्यवाही करते हुए शुक्रवार को फैक्ट्री के अन्दर अवैध ब्लॉक पत्थर से भरा हुआ ट्रेक्टर ट्रॉली को जब्त कर थाने में सुपुर्द कर दिया है और फैक्ट्री को सील कर दिया है।  टीम में लगभग दो दर्जन से अधिक वन व पुलिस विभाग के अधिकारी शामिल थे।

Morena News : स्टोन कटिंग फैक्ट्री पर छापा, अवैध पत्थर जब्त, फैक्ट्री सीलMorena News : स्टोन कटिंग फैक्ट्री पर छापा, अवैध पत्थर जब्त, फैक्ट्री सील

 

वन विभाग के अधिकारियों को काफी समय से खबर मिल रही थी कि कैलादेवी स्टोन कटिंग फैक्ट्री में अवैध पत्थर लाकर काटा जा रहा है। इस पर ग्वालियर स्थित वन विभाग के अधिकारियों ने मुरैना स्थित विभाग के अधिकारियों को फैक्ट्री पर कार्रवाई करने के लिए आदेशित किया था,लेकिन मुरैना के वन विभाग के रेंजर दीपांकर सिंह के नेतृत्व में फैक्ट्री में पहुंचकर जांच के बाद विभाग को बताया कि वहां अवैध पत्थर नहीं है केवल 33 ब्लॉक पत्थर है और कुछ संदिग्ध पड़े हुए है।

ये भी पढ़ें – भोपाल के नवनियुक्त कमिश्नर मकरंद देउस्कर ने संभाली कमान

इस जांच रिपोर्ट पर ग्वालियर के वन विभाग के अधिकारियों को विश्वास नहीं हुआ तथा अपर प्रधान मुख्य वन संरक्षक शशि मलिक के आदेश पर रेंजर एमपी शर्मा के नेतृत्व में स्पेशल जांच टीम ग्वालियर से बानमोर भेजी गई। जांच टीम गुरुवार को पहुंची तो फैक्ट्री में मौजूद सभी ब्लॉक की जांच नहीं कर सकी लेकिन दूसरे दिन आज शुक्रवार को टीम के लगभग दो दर्जन से अधिक अधिकारी व कर्मचारी मौके पर पहुंचे तथा उन्होंने जब जांच की तो जांच में 260 ब्लॉक पत्थर के पाए गए गए। उसके बाद स्पेशल टीम ने सभी पत्थर को जब्त कर लिया है तथा फैक्ट्री को सील कर दिया है।

ये भी पढ़ें – Government Jobs : वन विभाग में बंपर निकली भर्तियां, 12वीं पास के लिए अच्छा मौका

इस कार्रवाई के बाद अब मुरैना वन विभाग के अधिकारियों की जांच पर प्रश्नचिन्ह लग गया है। पहले मुरैना के रेंजर दीपांकर सिंह के नेतृत्व में जब टीम पहुंची थी तो इसी कैलादेवी स्टोन कटिंग फैक्ट्री में केवल पत्थरों के 33 ब्लॉक होने की बात कही गई थी तथा यहीं जांच रिपोर्ट में बताया गया था लेकिन बाद में जब आज शुक्रवार को ग्वालियर से आई स्पेशल टीम ने पत्थरों की जांच की तो मौके पर ही 260 ब्लॉक पत्थर मिला है। फिलहाल फैक्ट्री में मौजूद पत्थर जब्त कर उसे सील कर दिया गया है। बताया जा रहा है कि यह केवल अकेली फैक्ट्री नहीं है बल्कि अन्य स्टोन कटिंग फैक्ट्रियों में भी यही हालात हैं। इन फैक्ट्रियों में खनन माफिया द्वारा लाया जाने वाला ब्लॉक पत्थर खपाया जा रहा है।

ये भी पढ़ें – Indore : बेटी का ससुराल ना लौटना पिता को पड़ा महंगा, दामाद ने उठाया खौफनाक कदम, जाने मामला

इस पूरे मामले में जांच अधिकारी एमपी शर्मा ने बताया कि सीसीएफ साहब के आदेश पर यह कार्रवाई की गई है। सुबह 10 बजे अवैध पत्थर से लदी ट्रेक्टर ट्रॉली को फैक्ट्री के अन्दर से जब्त कर थाने में सुपुर्द कर दी हैं। जांच में फैक्ट्री के अन्दर 260 ब्लॉक पत्थर मिला है। फैक्ट्री का पत्थर जब्त कर उसे सील किया जा रहा है। इसके साथ ही फैक्ट्री संचालक के खिलाफ वन्य अधिनियम के तहत कार्यवाही की जाएगी।