हफ्ता वसूली से परेशान दुकानदारों ने किया मनासा-नीमच मुख्य मार्ग पर चक्काजाम, जानें पूरा मामला…

दबंग से परेशान होकर दुकानदारों ने मनासा-नीमच मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया और पुलिस से सख्त कार्रवाई की मांग की है। पढ़ें विस्तार से...

Neemuch News : मध्य प्रदेश के नीमच में दबंग दुकानदारों से हफ्ता वसूली करते थे, जिससे परेशान होकर ग्रामीणों ने मनासा-नीमच मुख्य मार्ग पर जाम लगा दिया। साथ ही, ग्रामीणों के साथ जिला पंचायत अध्यक्ष सज्जन सिंह चौहान भी वहीं धरने पर बैठ गए। जिसके कारण आवागमन में परेशानी होने लगी। वहीं, सूचना पाते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई और धरने पर बैठे लोगों को समझाने का प्रयास किया जाने लगा। आइए जानते हैं क्या है पूरा मामला…

चक्काजाम करने से आवागमन बाधित

दरअसल, नीमच सिटी थाना क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले जवासा चौराहे पर आक्रोशित ग्रामीणों ने चक्का जाम कर दिया। बताया जा रहा है कि असामाजिक तत्वों द्वारा दुकानदारों से अवैध वसूली की जा रही है और आए-दिन उनके साथ मारपीट की जा रही थी। जिससे परेशान होकर आज दुकानदार जवासा चौराहे पर एकत्रित हुए और चक्का जाम करते हुए मुख्य मार्ग पर धरना प्रदर्शन शुरू कर दिया। मौके पर भरी संख्या में ग्रामीण और दोनों ओर वाहनों की लम्बी कतार लग गई है। फिलहाल, प्रशासनिक और पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंच गए हैं और ग्रामीणों से बातचीत कर समाधान का प्रयास किया जा रहा है।

असामाजिक तत्व के खिलाफ कार्रवाई की मांग 

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, सावन निवासी माली समाज का व्यक्ति जो जवासा में दुकान करता है उसके साथ किसी व्यक्ति द्वारा दुकान पर दादागिरी करते हुए सामान लेने के बाद पैसा नहीं दिया और पैसा मांगने पर उसके साथ मारपीट की। ग्रामीणों का आरोप है कि, आए दिन असामाजिक तत्व दुकानदारों को परेशान करते हैं, वसूली करते हैं और सामान लेने के बाद पैसे नहीं देते। पैसे मांगने पर मारपीट पर उतारू हो जाते हैं, जिसको लेकर परेशान ग्रामीणों ने आज दुकानें बंद रखते हुए मुख्य मार्ग पर चक्काजाम कर दिया। साथ ही, प्रशासन से ऐसे लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की जा रही है।

नीमच से कमलेश सारडा की रिपोर्ट