Rajgarh: नकली पुलिस बन लूट को दिया अंजाम, एक पकड़ाया, एक फरार

घटना के बाद पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लूट की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है ,जांच शुरू कर दी है।

rajgarh

राजगढ़, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश के राजगढ़ (rajgarh) में नकली पुलिस (fake police) बन चैकिंग (checking) का बोल कर बाइक सवार को पिस्तौल (pistol) दिखा कर लूट की गई है। घटना के बाद बाइक सवार युवक ने एक आरोपी (accused) को पकड़ लिया तो वही 1 आरोपी लूट (loot) का समान लेकर मौके से फरार हो गया है। वहीं घटना के बाद पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लूट की धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है ,जांच शुरू कर दी है।

यह भी पढ़ें… ABVP के पूर्व महानगर मंत्री पर दर्ज हुआ बलात्कार का मामला, प्रेस नोट जारी कर संगठन ने किया किनारा

राजगढ़ में बदमाशो ने जो लूट करने तरीका अपनाया है उसे सुनकर हर कोई चौक जाएगा। दरअसल यह मामला नकली पुलिस बनकर लूट की घटना को अंजाम देने से जुड़ा है। राजगढ़ जिले के छापीहेड़ा थाना क्षेत्र में एक किसान को दो लोगों ने नकली पुलिस बनकर लूट लिया। चेकिंग के नाम पर बाइक सवार को रोककर उसके कान की सोने की बाली सहित उससे 30 हजार नगद छीनकर भाग निकले। किसान ने एक आरोपी को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया है जबकि दूसरा फरार है।

यह भी पढ़ें… MP School: 1 जुलाई से प्रदेश में खुलेंगे स्कूल! इन फॉर्मूले पर बनेगी सहमति

पुलिस के पास दर्ज शिकायत के अनुसार निपानिया बीका निवासी किसान जीवन किरार, उसके पिता हिंदूसिंह किरार और ब्याई बालचंद तीनों ग्राम निपानिया बीका से जीरापुर किसी जरूरी काम से बाइक पर सवार होकर निकले थे जहां से वापसी के दौरान जीरापुर और छापीहेडा के बीच मे मुन्ना बाबू की जीप के सामने हाथ देकर बाइक रुकवाई एवं कहा कि पुलिस चेकिंग चल रही है मास्क क्यूं नहीं लगाया….? चालान काटने की बात करते हुए दोनों ने तलाशी ली और एक व्यक्ति ने युवक को अलग ले जाकर थप्पड़ मारकर, पिस्तौल दिखाते हुए दोनों कान की सोने की बाली कीमत करीब 45 हजार और नगद 30 हजार रूपये भी लूट लिये। इसी दौरान भागते समय तीनों बाइक सवार युवकों ने मिलकर एक व्यक्ति को पकड़ लिया।पुलिस ने बताया कि पकड़ा गया आरोपी सब्बीरअली पिता साबिर अली निवासी करोंद भोपाल का है।

सब्बीर अली के आधार कार्ड, पेन कार्ड, ड्रायविंग लायसेंस, बैंक आफ बडोदा एटीएम कार्ड प्राप्त हुए तथा लूटे हुए 30
हजार रूपये एवं दो कान की बाली नहीं मिले। दूसरे आरोपी की तलाश पुलिस ने सरगर्मी से शुरू कर दी है। वहीं फरियादी जीवन सिंह की माने दो बाइक पर सवार ये चार बदमाश थे जो चैंकिंग कर रहे थे , अगर पुलिस इस मामले में पकड़े गए आरोपी सब्बीरअली सख्ती से पूछताछ करे तो एक बड़े गिरोह का पर्दाफाश हो सकता है।