रतलाम: नाबालिग से गैंगरेप के बाद की गई हत्या, पुलिस ने किया आरोपियों को गिरफ्तार

रतलाम,सुशील खरे। जिले के बिलपांक थाना क्षेत्र अंतर्गत रविवार सुबह एक खेत में नाबालिक बच्ची का शव मिलने के मामले का रतलाम पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस के अनुसार 13 साल की बालिका का अपहरण कर गैंग रेप करने के बाद उसकी नृशंस हत्या कर दी गई। पुलिस ने इस जघन्य वारदात को अंजाम देने वाले तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। घटना का खुलासा एसपी रतलाम और बिलपांक थाना प्रभारी ने किया।

सोमवार को पुलिस ने किया खुलासा

सोमवार को पुलिस कंट्रोल रूम पर एसपी गौरव तिवारी ने इस मामले का खुलासा किया। एसपी ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि रविवार सुबह मक्के के खेत में सड़क से लगभग 300 मीटर की दूरी पर एक नाबालिक बच्ची का शव होने की सूचना पुलिस को मिली थी। सूचना पर एसपी, एफएसएल अधिकारी अतुल मित्तल सहित बिलपांक थाना प्रभारी ब्रजेश मिश्रा पुलिस टीम के साथ मौके पर पहुंची और जांच शुरू की।

आरोपियों को किया गया गिरफ्तार

घटनास्थल कि प्रारंभिक जांच में ही दुष्कर्म और हत्या की आशंका पुलिस को लग रही थी। शव को पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेजा गया और पुलिस ने अपनी जांच शुरू की। मामले की गंभीरता को देखते हुए एसपी ने एएसपी डॉ इंद्रजीत बाकलवाल,एएसपी सुनील पाटीदार और एसडीओपी मान सिंह चौहान टीआई बिलपांक ब्रजेश मिश्रा के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया और तीनों आरोपी कालू पिता चैन सिंह, दीपक पिता नाहर सिंह और रवि पिता राम सिंह तीनों निवासी गुर्जरपारा थाना बिलपांक को गिरफ्तार किया।

 

शनिवार रात को चाय और शक्कर लेने घर से निकली थी बच्ची

पुलिस ने बताया कि मृतका शनिवार शाम को घर से चाय पत्ती, शक्कर और अन्य सामान लेने किराने की दुकान पर गई थी। जिसके बाद वह घर नहीं लौटी। काफी देर तक घर नहीं पहुंचने पर परिजनों ने उसकी तलाश शुरू की थी। परिजनों ने बालिका के नहीं मिलने पर 100 डायल पर सूचना दी थी। जिसके बाद पुलिस ने भी बालिका की तलाश शुरू की।पुलिस द्वारा तलाश करने पर चाय की पत्ती ,शक्कर ,और अन्य सामान रोड से लगे खंडहर के पास मिला। जब आसपास खेत में तलाश की गई तो बालिका का शव बरामद हुआ।

ये भी पढ़े :- नाबालिग का शव मिला, प्रारंभिक जांच में दुष्कर्म के बाद हत्या की आशंका, जांच में जुटी पुलिस

अपहरण कर गैंगरेप और हत्या करने वाले आरोपी 24 घंटे में हुए गिरफ्तार

एसपी ने बताया कि मामले की जांच करते हुए जब ग्रामीणों से पूछताछ की गई तो पता चला कि रात में कालू पिता चैन सिंह, दीपक पिता नाहर सिंह और रवि पिता राम सिंह तीनों निवासी गुर्जरपारा थाना बिलपांक एक साथ रोड पर देखे गए थे और घटना के बाद से तीनों गायब हैं। इसके बाद पुलिस ने मुखबिर तंत्र की सहायता से तीनों आरोपियों को 24 घंटे के अंदर ही गिरफ्तार किया। पुलिस के अनुसार पूछताछ में आरोपियों ने बालिका का अपहरण कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म और बाद में तालाब में डुबो-डुबो कर हत्या करने की बात स्वीकार की है। पुलिस ने तीनों आरोपियों के खिलाफ विभिन्न धाराओं में प्रकरण दर्ज किया है। एसपी ने बताया कि उक्त मामले को जघन्य और सनसनीखेज अपराध के रूप में चिन्हित किया गया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here