Satna News : पर्यवेक्षक व परियोजना अधिकारी से प्रताड़ित आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं ने, स्थानीय विधायक को सौंपा ज्ञापन

सतना जिले (Satna District) के रामपुर बाघेलान की महिला बाल विकास की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ ने रामपुर बाघेलान के विधायक विक्रम सिंह के आवास पर पहुंच कर ज्ञापन पत्र सौंपा है।

सतना, पुष्पराज सिंह बघेल। पोषण ट्रैकर एप (POSHAN Tracker app) को लेकर आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं (Anganwadi workers) में विरोध जारी है। इसी कड़ी में सतना जिले (Satna District) के रामपुर बाघेलान की महिला बाल विकास की आंगनबाड़ी कार्यकर्ता संघ ने रामपुर बाघेलान के विधायक विक्रम सिंह के आवास पर पहुंच कर ज्ञापन पत्र सौंपा है। साथ ही हम सब एक है और नारी शक्ति जिंदाबाद के नारे भी लगाए।

यह भी पढ़ें…Indore News: जन आशीर्वाद यात्रा में कोरोना के नियमों की धज्जियां उड़ाने पर कांग्रेस ने ली आपत्ति

आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं का कहना है कि जब यह पोषण ट्रैकर ऐप महिला बाल विकास की पर्यवेक्षक नहीं चला सकती तो भला वो कैसे चलाएंगे। जिसमें न्याय के लिए पोषण ट्रैकर एप के विरोध में हाई कोर्ट में कार्यकर्ताओं ने याचिका भी लगाई हुई है। उसके बाद भी रामपुर बाघेलान परियोजना अधिकारी सुभाष सोनी एवं पर्यवेक्षक रितु गुप्ता द्वारा कार्यकर्ताओं को मीटिंग के बहाने बुलाकर ट्रेनिंग रजिस्टर में साइन करा कर ट्रेनिंग के लिए आई हुई राशि को डकारने के प्रयास में है।

कार्यकर्ताओं का आरोप है कि रामपुर बघेलान में रितु गुप्ता रामपुर नगर की पर्यवेक्षक है। जिसमें कार्यकर्ताओं से मोटी रकम कमाने के लिए उन्होंने कार्यालय के बगल में स्टेशनरी की दुकान खोल रखी है। जिसमें 2 रु का फॉर्म 10 रु में जबरन कार्यकर्ताओं को बेचा जाता है। और ना लेने पर पर्यवेक्षक के पति द्वारा उनके मानदेय के कटौती की धमकी दी जाती है। जिस पर आक्रोशित कार्यकर्ताओं ने पहले तो अनुविभागीय अधिकारी रामपुर बाघेलान को ज्ञापन दिया। उसके बाद भी जब कोई कार्रवाई नहीं हुई तो रामपुर बाघेलान के विधायक विक्रम सिंह (MLA Vikram Singh) को ज्ञापन पत्र सौंपते हुए न्याय की गुहार लगाई है।

यह भी पढ़ें…अजमेर के दानदाता ने 36 किलो चांदी के आभूषण महाकालेश्वर को किये भेंट, गुप्त रखा अपना नाम