सिंगरौली//राघवेन्द्र सिंह गहरवार।

सिंगरौली जिले में आज जिला कलेक्टर के पास जन सुनवाई में ग्रामीणों ने आवेदन देकर बताया है कि माड़ा थाना अन्तर्गत ग्राम – कुम्हिया व गहिड़ार गाँव क्षेत्र के सीमा पर सरस्वती स्टोन क्रेशर प्लांट स्थापित है जिससे ग्रामीण वासियों को धूल – प्रदूषण से जूझना पड़ रहा है वही पत्थर खनन बंद करवाने हेतु भी कलेक्टर महोदय के पास शिकायत की जिस पर जिला कलेक्टर ने जांच का आश्वासन दिया गया है ।

वहीं कलेक्ट्रेट कार्यालय में लगभग डेढ़ दर्जन से अधिक महिलाये – पुरुष ग्रामीण आये हुये थे जिसमे आरोप लगाते हुये बताते हैं कि स्टोन क्रेशर और पत्थर खदान के पास 25 से 30 घर हैं जिसमें ब्लास्टिंग के समय घरों व आंगन में पत्थर आते हैं एवं स्टोन क्रेशर से धूल प्रदूषण होते रहता हैं वही स्टोन क्रेशर संचालको द्वारा नियम को ताक पर रखकर बड़े-बड़े गड्ढे कर दिये गये हैं जो मानक के विपरीत है जांच का विषय बना हुआ है ।

वही ग्रामीण बताते हैं कि क्रेशर मालिक – देवेंद्र गोयल द्वारा ग्रामीणों को धमकाया जाता है कि झूठे केस में फसा दिया जायेगा और माड़ा पुलिस द्वारा क्रेशर प्लांट में आकर स्टोन क्रेशर चलवाया जाता है पुलिस वहाँ बैठी रहती है यह बात ग्रामीणों ने बताया कि बस्ती से महज 200 फीट की दूरी पर पत्थर खदान व स्टोन क्रेशर है जिसे जनधन की क्षति होने की आशंका बनी रहती है जिसे ग्रामीणों ने मांग की है कि पत्थर खदान एवं स्टोन क्रेशर बंद कराये जाये ताकि शुद्ध पानी खाना शांति ग्रामीण वासियो की बनी रहे ।

मौके पर ह्रदयलाल पाल, रामसजीवन पाल, लालबहादुर पाल, श्रीलाल शाह, लालमन पाल पिता- राजलाल पाल, राधेश्याम शाह, पुलेस शाह, लालमन पाल पिता- रामकिशुन पाल, नंदलाल पाल अखिलेश पाल, हीरालाल पाल, लाले प्रसाद पाल, राजलाल पाल, सोन कुवर पाल, पानपती शाह, लीलामती पाल, सुनीता पाल, रामेश्वर पाल, छोटू सिंह सीतासरन पाल सहित अन्य लोग मौजूद रहे ।