दादरा एवं नगर हवेली : लोकसभा सांसद की संदिग्ध अवस्था मे मौत, होटल में मिला शव

छह बार लोकसभा सांसद रहे मोहन भाई ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत सिलवासा में ट्रेड यूनियन लीडर के तौर पर शुरू की थी।

दादर नागर एंड हवेली

मुंबई, डेस्क रिपोर्ट। महाराष्ट्र (Maharashtra) की राजधानी मुंबई (Mumbai) से बड़ी खबर मिल रही है। महाराष्ट्र और गुजरात के बीच स्थित दादरा और हवेली लोकसभा सीट (Dadra and Haveli Lok Sabha seat) से निर्दलीय लोकसभा सांसद (Loksabha MP) मोहन डेलकर ( Mohan Delkar) की संदिग्ध अवस्था में मौत हो गई। मुंबई के मरीन ड्राइव (Marine drive) के होटल सी ग्रीन (Hotel C Green) में उनका शव मिला है।

यह भी पढ़े.. MP Board : अप्रैल-मई में 9वीं से 12वीं की परीक्षाएं, छात्रों के लिए मुसीबत ना बन जाएं निकाय चुनाव

शुरुआती जांच में आत्महत्या (MP Suicide) की आशंका जताई जा रही है। फिलहाल पुलिस (Mumbai Police) ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है। पुलिस के आला अधिकारी मौके पर पहुंच रहे हैं। अबतक हत्या या आत्महत्या का कोई कारण सामने नहीं आया है. पुलिस मामले की जांच कर रही है। सूत्रों के मुताबिक गुजराती भाषा में लिखा हुआ एक सुसाइट नोट (Suicide Note) भी बरामद हुआ है लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं हो सकी है।मोहन डेलकर की उम्र 58 वर्ष थी। डेलकर पहली बार साल 1989 में वे दादरा और नगर हवेली लोकसभा क्षेत्र से चुनाव जीतकर लोकसभा पहुंचे थे।

ऐसा रहा राजनैतिक सफर

  • छह बार लोकसभा सांसद रहे मोहन भाई ने अपने राजनीतिक करियर (Political career) की शुरुआत सिलवासा में ट्रेड यूनियन लीडर के तौर पर शुरू की थी।
  • 1985 में आदिवासी विकास संगठन की स्थापना की।
  • वर्ष 1989 में वह पहली बार दादरा नगर हवेली से लोकसभा के लिए निर्दलीय सांसद के तौर पर चुने गए।
  • 1991 और 1996 का चुनाव उन्होंने कांग्रेस के टिकट पर जीता।
  • 1998 में वह बीजेपी(BJP) के टिकट पर लोकसभा पहुंचे।
  • 1999 में निर्दलीय और 2004 में भारतीय नवशक्ति पार्टी के चिन्ह पर लोकसभा चुनाव में जीत दर्ज की।
  • 2020 में वह जनता दल यूनाइटेड(JDU) में शामिल हो गए।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here