ममता को लगने वाला है बड़ा झटका! जल्द इस्तीफा दे सकते है वित्त मंत्री, अटकलें तेज

ऐसे में माना जा रहा है कि वे नवम्बर से पहले वित्त मंत्री पद से इस्तीफा दे सकते है। ऐसी स्थिति में राज्य का अगला वित्तमंत्री कौन होगा इस पर भी कयास लगने शुरू हो गए हैं।

वित्त मंत्री

कोलकत्ता, डेस्क रिपोर्ट। पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव (west bengal assembly elections) में भले ही TMC, BJP को मात देकर सरकार बनाने में कामयाब हो गई हो लेकिन मुख्यमंत्री बनने के बाद से ही ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) की मुश्किलें कम होने का नाम नहीं ले रही है। अब खबर है कि प्रख्यात अर्थशास्त्री और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अमित मित्रा पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री के पद से इस्तीफा दे सकते हैं। यहां तक कि वे सक्रिय राजनीति से संन्यास भी ले सकते हैं, अगर ऐसा होता है तो इससे ममता सरकार को कितना नुकसान होता है, ये आने वाला वक्त ही बताएगा।

यह भी पढ़े.. MP Weather Update: मप्र के इन जिलों में आज बारिश के आसार, जानें अन्य राज्यों का हाल

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो आने वाले दिनों में ममता सरकार (Mamta Government) को बड़ा झटका लगने वाला है।पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री अमित मित्रा अपने पद से इस्तीफा दे सकते है। इतना ही नहीं 73 साल के अमित मित्रा राजनीति से भी संन्यास ले सकते है। सुत्रों की मानें तो खुद अमित मित्रा ने पद छोड़ने की इच्छा जाहिर की है, सियासी गलियारों में इसकी अटकलें तेज हो गई है, हालांकि अभी अधिकारिक घोषणा होना बाकी है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, विधानसभा चुनाव से पहले ही अमित मित्रा खुद चुनाव ना लडऩे की बात कह चुके थे, यही कारण रहा है इस बार उन्होंने ना तो अपनी पारंपरिक सीट खरदाहा विधानसभा क्षेत्र (Khardaha Assembly Constituency)  या किसी सीट से चुनाव लड़ा।वही नियमों के मुताबिक भी मित्रा को इसी साल की नवम्बर से पहले विधानसभा का सदस्य बनना अनिवार्य है,  लेकिन वे पहले ही चुनाव लडऩे से इंकार कर चुके हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि वे नवम्बर से पहले वित्त मंत्री पद से इस्तीफा दे सकते है। ऐसी स्थिति में राज्य का अगला वित्तमंत्री कौन होगा इस पर भी कयास लगने शुरू हो गए हैं।

यह भी पढ़े.. MP Police : मध्य प्रदेश के 150 टीआई बने कार्यवाहक DSP, यहां देखें पूरी लिस्ट

बता दे कि अमित मित्रा (Finance Minister Amit Mitra) प्रख्यात अर्थशास्त्री और तृणमूल कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं में से एक है। वे लगभग  साल 2011 से पश्चिम बंगाल के वित्त मंत्री का कार्यभार संभाल रहे हैं। वे उत्तर 24 परगना के खरदाह निर्वाचन क्षेत्र से दो बार विधायक रह चुके हैं। वित्त मंत्री के साथ उन्होंने 2014 से उद्योग मंत्रालय भी संभाला है।अमित मित्रा FICCI के प्रमुख सचिव भी रहे चुके हैं।इसके साथ ही ममता बनर्जी के काफी करीबी भी माने जाते हैं। वही वे यूपीए-2 में अमित मित्रा केंद्रीय रेल मंत्री भी रह चुके हैं।