लग्जरी लाइफस्टाइल की चाह ने पहुंचाया सलाखों के पीछे, honey trap मामले में पूर्व ‘मिसेज इंडिया राजस्थान’ गिरफ्तार

प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि पूर्व मिसेज इंडिया राजस्थान ने लग्जरी लाइफस्टाइल (luxury lifestyle) जीने की चाहत में व्यापारी को फंसाया। इसके बाद उसे बलात्कार मामले में फंसाने की धमकी दी और बदले में 400 गज का प्लॉट उसके नाम करने का दबाव बनाने लगी। इसे अंजाम देने के लिए पिछले महीने ही प्रियंका चौधरी ने श्याम नगर थाने में व्यापारी के खिलाफ मार-पीट का केस भी दर्ज करवाया था।

honey trap

जयपुर, डेस्क रिपोर्ट। हनीट्रैप (honey trap) मामले में इस बार बड़ा नाम सामने आया है। 2019 में ‘मिसेज इंडिया राजस्थान’ (mrs india rajsthan) बनीं प्रियंका चौधरी (priyanka chaudhary) पर जयपुर के एक व्यापारी (businessman) को हनीट्रैप में फंसाने के आरोप है। इसी सिलसिले में उन्हें गिरफ्तार (arrest) भी कर लिया गया है। पुलिस ने उन्हें 2 दिन के रिमांड पर लिया है और पूछताछ कर रही है। प्रारंभिक पूछताछ में सामने आया कि पूर्व मिसेज इंडिया राजस्थान ने लग्जरी लाइफस्टाइल (luxury lifestyle) जीने की चाहत में व्यापारी को फंसाया। इसके बाद उसे बलात्कार मामले में फंसाने की धमकी दी और बदले में 400 गज का प्लॉट उसके नाम करने का दबाव बनाने लगी। इसे अंजाम देने के लिए पिछले महीने ही प्रियंका चौधरी ने श्याम नगर थाने में व्यापारी के खिलाफ मार-पीट का केस भी दर्ज करवाया था।

यह भी पढ़ें… दिग्विजय के बयान पर घर में रार, भाई ने किया समर्थन तो बहू ने किया वार

पूर्व मिस इंडिया राजस्थान प्रियंका राजस्थान के टोंक जिले के पीपलू तहसील की रहने वाली हैं। 2008 में प्रियंका की शादी फिलहाल टोंक में पोस्टेड राजस्थान पुलिस में हेड कांस्टेबल से हुई थी। इन दोनों की दो बेटियां भी हैं। प्रियंका ने शादी के बाद एलएलबी का कोर्स पूरा किया है। मिस इंडिया राजस्थान प्रियंका ने ये खिताब जीतने के बाद एक इंटरव्यू में कहा था जिस मुकाम को मैं मिस रहकर नहीं छू पाई अब मैं वो मिसेज बन कर पूरा करूंगी। लेकिन लगता है कुछ बड़ा करने के चाहत में वे गलत रास्ते पर चल पड़ीं।

मिस इंडिया राजस्थान का खिताब हांसिल करना प्रियंका के लिए आसान नहीं था। 2019 में इस प्रतियोगिता का आयोजन जयपुर में हुआ था। प्रियंका ने भी इसका फॉर्म भरा और घर पर किसी को नहीं बताया। प्रतियोगिता की लंबी प्रक्रिया को पार करते हुए प्रियंका ने आखिर में खिताब खुद के नाम किया।

पुलिस की जांच में पता चला कि 2016 में प्रियंका की मुलाकात लोहे के व्यापारी घासीलाल चौधरी से हुई थी। प्रियंका और उनके पति घासीलाल के घर पहुंचे। घासीलाल की पत्नी भी प्रियंका के ही गांव से हैं इसिक हवाला देकर बातों में बरगला के प्रियंका उसी मकान में रहने लगीं। करीब डेढ़ साल तक उस मकान में रहने के बाद प्रियंका ने खुद का फ्लैट ले लिया। मकान खाली करने के बाद भी प्रियंका का सम्पर्क व्यापारी घासीलाल से बना रहा। दोनों के बीच नज़दीकी बढ़ने लगी और फिर प्रियंका अनाब-शनाब पैसों की डिमांड करने लगी।

honey trap

यह भी पढ़ें… MP School: जून में खुलेंगे स्कूल! 30 जून तक पूरी होगी प्रवेश प्रक्रिया

इसके बाद उसने व्यापारी से सीधा 400 गज के प्लॉट की ही डिमांड कर दी। व्यापारी ने उसकी इस डिमांड को नहीं माना। जिसके बाद उसने पुलिस थाने में व्यापारी के खिलाफ झूठी मारपीट का मामला दर्ज करवाया और दबाव बनाने लगी। परेशान व्यापारी ने आखिरकार 3 जून को श्यामनगर थाने में प्रियंका के खिलाफ हनीट्रैप का मामला दर्ज करवाया। जिसके बाद पुलिस ने प्रियंका को गिरफ्तार कर लियाम