क्लासरूम में पोर्न फिल्में देखता था सरकारी स्कूल का शिक्षक, जांच में मोबाईल हिस्ट्री से मिले सबूत, निलंबित

डेस्क रिपोर्ट। सरकारी स्कूल के टीचर को क्लासरूम मे पोर्न फिल्में देखना महंगा साबित हो गया, शिकायत के बाद स्कूल प्रबंधन ने टीचर को निलंबित कर दिया, कानपुर के एक सरकारी टीचर का क्लास में पढ़ाने के दौरान पोर्न वीडियो देखने का मामला सामने आया है। टीचर को क्लासरूम में पोर्न फिल्में देखते छात्रा ने देख लिया, छात्रा ने यह बात अपने घर में माँ से बताई, जिसके बाद छात्रा के परिजन स्कूल पहुंचे और हंगामा कर दिया। इसके बाद प्रिंसिपल ने जांच कमेटी बैठा दी। इसकी रिपोर्ट के आधार पर टीचर को सस्पेंड कर दिया गया है।

वरिष्ठ पत्रकार हितेंद्र बुधौलिया बने बाल कल्याण समिति के सदस्य

शास्त्रीनगर के उच्च प्राइमरी स्कूल भाऊसिंह के शिक्षक अनूप कुमार शुक्ला पर आरोप है कि वह क्लास में पढ़ाने के बजाए अपनी कुर्सी पर बैठकर पोर्न वीडियो देखता था। मामले का खुलासा तब हुआ जब 7वीं की एक छात्रा की नजर उसके मोबाइल पर पड़ी। पहले तो वह खामोश रही, लेकिन फिर परिवार वालों को सब कुछ बता दिया। परिवार वालों ने अनहोनी की आशंका में स्कूल के प्रिंसिपल से बीते सोमवार को शिकायत की। टीचर पर कार्रवाई कराने के लिए परिसर में हंगामा किया। मामले की गंभीरता को देखते हुए बीएसए डॉ. पवन कुमार तिवारी ने टीचर के खिलाफ जांच बैठा दी। जांच होने के दरम्यान टीचर को स्कूल आने से रोक दिया गया था।

दुनिया का पहला सबसे सस्ता 5G फोन “JioPhone Next”, जानिए फीचर्स और प्राइस

शिकायत के बाद  जांच कमेटी ने टीचर के मोबाइल को कब्जे में लिया था। इंटरनेट हिस्ट्री में जाकर देखा गया तो सामने आया कि छात्रा के आरोप सही हैं। टीचर के मोबाइल पर लगातार पोर्न साइट देखी गई थीं। शुक्रवार को जांच कमेटी ने शिक्षक दोषी पाया। जांच के आधार पर दोषी पाए गए शिक्षक को निलंबित कर दिया गया है।