“सुपर मॉम” के निधन पर सचिन तेंदुलकर ने जताया दुःख, ट्वीट कर हुए भावुक

रानी को 11 मार्च 2008 को देहरादून के विशेषज्ञों ने रेडियो कॉलर पहनाया था इसी के कारण रानी कॉलर वाली बाघिन के रूप में चर्चित हो गई।

मुंबई , डेस्क रिपोर्ट। मध्य प्रदेश को टाइगर स्टेट का दर्जा दिलवाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली “कॉलर वाली बाघिन” (Collared Tigress) सुपर मॉम (Super Mom) के निधन पर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने दुःख जताया है। उन्होंने ट्वीट कर लिखा कि राजसी बाघिन (Majestic Tigress) का जाना दिल दहला देने वाला है।

पेंच टाइगर रिजर्व (Pench Tiger Reserve) की शान बाघिन “रानी” (Super Mom Rani) का शनिवार को निधन हो गया था। उसके निधन के बाद वन्यप्राणी प्रेमियों को बहुत दुःख पहुंचा है। भारत रत्न, क्रिकेट के भगवान सचिन तेंदुलकर ने भी कॉलर वाली बाघिन, सुपर मॉम के निधन पर दुःख जताया है।  सचिन ने ट्वीट कर अपनी संवेदनाएं व्यक्त की हैं।

ये भी पढ़ें – बालाघाट : वन्यप्राणी की खाल के साथ धन तंत्र साधना करते सात गिरफ्तार

गौरतलब है कि पेंच टाइगर रिजर्व की शान 17 साल की कॉलर वाली बाघिन “रानी” 29 शावकों को जन्म देकर सुपर मॉम कहलाई ये एक विश्व रिकॉर्ड है। रानी ने मप्र को टाइगर स्टेट का दर्जा दिलाने में अग्रणी रही। बाघिन रानी का जन्म सितम्बर 2005 में हुआ था उसने केवल ढाई साल की उम्र में तीन शावकों को जन्म दिया था।  तब से लेकर अब तक आठ बार गर्भवती हुई रानी ने कुल 29 शावकों को जन्म दिया। रानी की तरह की उसके शावकों की दहाड़ भी मध्य प्रदेश में सुनाई देती है।

ये भी पढ़ें – SDM और सहायक आयुक्त पर गिरी गाज, सीएम शिवराज के अधिकारियों को निर्देश- तय हो जवाबदेही

रानी के निधन के बाद मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी ट्वीट कर अपनी संवेदनाएं जताई थी। उन्होंने ट्वीट किया था – मप्र को टाइगर स्टेट का दर्जा दिलाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाली, मध्यप्रदेश की शान व 29 शावकों की माता ‘सुपर टाइग्रेस मॉम’ कॉलरवाली बाघिन को श्रद्धांजलि। पेंच टाइगर रिजर्व की ‘रानी’ के शावकों की दहाड़ से मध्यप्रदेश के जंगल सदैव गुंजायमान रहेंगे।

ये भी पढ़ें – लापता बांग्लादेशी अभिनेत्री का शव हुआ बरामद, जानिए पूरा मामला

मध्य प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा ने भी कॉलर वाली बाघिन के निधन पर दुःख जताते हुए ट्वीट किया था।  नरोत्तम मिश्रा ने ट्वीट किया –  ‘सुपर मॉम’ को आखिरी सलाम। 29 शावकों को जन्म देने वाली पेंच टाइगर रिजर्व की ‘कॉलर वाली बाघिन’ की मृत्यु की खबर दुखद है। मध्यप्रदेश को मिली टाइगर स्टेट की गौरवशाली पहचान पर कोई भी चर्चा इस सुपर मॉम के महत्वपूर्ण योगदान के बिना पूरी नहीं हो सकेगी।