अपने दम पर चुनाव जीतने की ताकत हो तो आजमा कर देख लो, युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने दी कार्यकर्ताओं को चुनौती

एमपी यूथ कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया का एक विडियो बहुत चर्चा में आ रहा है, जिसमे वह कार्यक्रम के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं को चेतावनी देते हुए नज़र आ रहे हैं। जानते है पूरा मामला-

 नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। मध्यप्रदेश युवा कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया ने रतलाम में आयोजित कांग्रेस की एक बैठक के दौरान पार्टी कार्यकर्ताओं को चुनौती दे दी। युवा कांग्रेस अध्यक्ष ने पार्टी कार्यकर्ताओं को मंच से ललकारते हुए कहा कि “अपने दम पर चुनाव जीतने का मुगालता हो तो आजमा कर देख लो।“ भूरिया ने आगे बात जारी रखते हुए कहा कि “अगर कोई भी भाजपा को सपोर्ट करना या भाजपा में जाना चाहता है, तो वह कल जाना चाहता है तो आज ही चला जाए। पीछे से विश्वासघात ना करे।“  एमपी युवा कांग्रेस अध्यक्ष के इस बयान से अंदाज़ा लगाया जा रहा है कि कांग्रेस में आपसी कलह का माहौल है।

यह भी पढ़ें – Madhya Pradesh: राज्य सरकार की बड़ी तैयारी, डाटाबेस सॉफ्टवेयर तैयार, ऐसे मिलेगा ग्रामीणों को लाभ

विक्रांत भूरिया ने आगे यह भी कहा कि “पार्टी के बड़े नेता भी ऐसे लोगों को सपोर्ट ना करें, जो अब तक कांग्रेस के आंदोलन में शामिल होने नहीं आए।“ दरअसल आने वाले चुनाव की तैयारियों का जायजा लेने के लिए प्रदेश युवक कांग्रेस अध्यक्ष विक्रांत भूरिया रतलाम पहुंचे थे। उनके साथ पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया भी थे। इसी बैठक के दौरान विक्रांत भूरिया ने पार्टी कार्यकर्ताओं को तीखे स्वर में चेतावनी दे डाली।

यह भी पढ़ें – MP News : एमपीपीएससी इंजीनियरिंग परीक्षा मामले पर HC ने फैसला रखा सुरक्षित

बता दें कि विक्रांत भूरिया प्रदेश कांग्रेस के वरिष्ठ नेता तथा पूर्व केंद्रीय मंत्री कांतिलाल भूरिया के बेटे हैं। विक्रांत भूरिया पहले भी चर्चा में आ चुके हैं, जब सांसद गुमान सिंह डामोर के समर्थकों ने उनके खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी। दरअसल विक्रांत भूरिया पर गुमान सिंह का एक वीडियो एडिट करके पोस्ट करने का आरोप था। इस विडियो में सांसद को आरक्षण विरोधी दिखाया गया था। सासंद गुमान सिंह डामोर ने बताया था कि उन्होंने धर्म परिवर्तन कर चुके आदिवासियों को आरक्षण के अंतर्गत मिलने वाली सुविधाओं को निरस्त करने की बात कही थी।