स्वच्छता भक्ति: 100 किलोमीटर दूर से डॉक्टर हनुमान मंदिर की सफाई करने आता है युवाओं का दल

पिछले 5 से 6 वर्षों से लगातार हर महीने डॉक्टर हनुमान के दरबार में पहुंचकर इसी प्रकार से सेवा कार्य करते हैं और मंदिर को साफ स्वच्छ रखने में अपनी अहम भूमिका का निर्वहन करते हैं

भिण्ड, गणेश भारद्वाज।  स्वच्छता दूत, स्वच्छताकर्मी ये शब्द सुने होंगे लेकिन आज आपको स्वच्छता भक्ति शब्द से परिचित कराते हैं। रामचरित्र मानस में गोस्वामी तुलसीदास ने एक चौपाई लिखी है कि ‘राम काज कीजे बिना मोहि कहां विश्राम”,  ऐसा ही कुछ राम काज कहें या हनुमान काज करने के लिए 1 सैकड़ा से अधिक युवा हर महीने अंचल के डॉक्टर हनुमान के नाम से प्रसिद्ध धार्मिक स्थल दंदरौआ धाम पहुंचते हैं। पिछले 5 वर्षों से अधिक समय से घिरोना सरकार सेवा समिति मुरैना के ये युवा हर महीने डॉक्टर हनुमान के दर्शनों के लिए आते हैं और यहां न केवल दर्शन करते हैं बल्कि यहां के पूरे परिसर की साफ सफाई भी करते हैं।

पिछले दिनों जब एमपी ब्रेकिंग न्यूज़ के संवाददाता दंदरौआ धाम डॉक्टर हनुमान के दर्शनों को पहुंचे तो यहां पर अनेक युवा अनेक समूहों में मंदिर परिसर की साफ सफाई करते दिखाई दिए। कोई अपने हाथों में पानी की पाइप लिए था तो कोई झाड़ू और कोई बाइपर। करीब 1 हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में फैले इस मंदिर परिसर यह युवक साफ सफाई करते हुए दिखाई दिए। इन युवाओं से जब हमारे संवाददाता ने बात की तो उन्होंने बताया कि हम पिछले 5 वर्षों से लगातार हर महीने मंदिर परिसर की साफ सफाई करने के लिए मुरैना से दंदरौआ धाम आते हैं।

ये भी पढ़ें – नरोत्तम मिश्रा का बयान- Sonia दुर्गा-kamalnath कृष्ण..धर्म का मखौल उड़ाना कांग्रेस की आदत

जब हमारे संवाददाता ने पूछा कि आप सबके मन में इतनी दूर से आकर साफ सफाई करने की इच्छा कैसे जागृत हुई तो साफ सफाई में जुटे एक युवा महेश व्यास ने बताया कि हम लोग मुरैना के घिरोना सरकार मंदिर में इसी प्रकार साफ सफाई करते हैं । एक बार यहां आए और यहां पर गंदगी देखी तो श्री हनुमान जी महाराज की प्रेरणा से मन हुआ कि हम यहां भी साफ सफाई करें और तब से ही लगातार हर महीने के अंतिम रविवार को आकर यहां के मंदिर परिसर में साफ सफाई करते हैं। हमने जब इन युवाओं से पूछा कि यह क्रम कब तक जारी रखेंगे तो उन्होंने कहा कि जब तक जीवन की अंतिम सांस है तब तक यह साफ सफाई का क्रम जारी रहेगा। स्वच्छता का अनुपम संदेश देने वाले इन युवाओं की स्वच्छता भक्ति देखकर लगा कि देश में स्वच्छता प्रेमियों की कमी नहीं है।

ये भी पढ़ें – Gold Silver Rate : खुशखबरी, सोना चांदी दोनों हुए सस्ते, ये हैं आज के भाव

स्वच्छता भक्ति: 100 किलोमीटर दूर से डॉक्टर हनुमान मंदिर की सफाई करने आता है युवाओं का दल स्वच्छता भक्ति: 100 किलोमीटर दूर से डॉक्टर हनुमान मंदिर की सफाई करने आता है युवाओं का दल

इन युवाओं की स्वच्छता भक्ति के विषय में जब दंदरौआ धाम के महंत रामदास महाराज से चर्चा की गई तो उन्होंने बताया कि वास्तव में इन युवाओं की भक्ति अनुपम है। यह लोग पिछले 5 से 6 वर्षों से लगातार हर महीने डॉक्टर हनुमान के दरबार में पहुंचकर इसी प्रकार से सेवा कार्य करते हैं और मंदिर को साफ स्वच्छ रखने में अपनी अहम भूमिका का निर्वहन करते हैं। उन्होंने कहा कि श्री हनुमान जी की कृपा से इन्हें कभी भी जीवन में किसी भी प्रकार का कोई कष्ट प्राप्त नहीं होगा और यह सदैव प्रसन्न चित्त रहेंगे ऐसा मेरा इन सब युवाओं को आशीर्वाद है।

ये भी पढ़ें – CM House में मनाया गया जन्माष्टमी का त्यौहार, मुख्यमंत्री शिवराज ने गाए भजन