करोड़ो के मालिक विनोद कांबली की आर्थिक स्थिति बिगड़ी, अब बस बीसीसीआई पेंशन ही एकमात्र सहारा

इससे पहले कांबली ने साल 2019 में आखिरी बार किसी टीम की कोचिंग दी थी।

खेल, डेस्क रिपोर्ट। पूर्व भारतीय क्रिकेटर और सचिन तेंदुलकर के दोस्त विनोद कांबली के आर्थिक हालात बहुत ज्यादा बिगड़ गए है। फिलहाल, वह बीसीसीआई की ओर से दी जाने वाली पेंशन से ही गुजारा कर रहे है। क्रिकेट में एक समय गेंदबाजों की हालत पतली कर देने वाले कांबली आर्थिक तंगी से जूझ रहे हैं और काम की तलाश कर रहे हैं।

एक इंटरव्यू के दौरान विनोद कांबली ने खुद अपनी खराब स्थिति के बारे में बताया। उन्होंने कहा, “मैं सिर्फ बीसीसीआई की पेंशन पर निर्भर हूं, मैं मुंबई क्रिकेट एसोसिएशन के पास भी काम के लिए गया था। मैं उम्मीद करता हूं कि मुझे कोई काम मिल पाएगा।”

ये नहीं पढ़े … मध्य प्रदेश को रणजी चैंपियन बनाने वाले चंद्रकांत पंडित बने कोलकाता नाइट राइडर्स के कोच

इस दौरान कांबली ने यह भी बताया है कि सचिन को भी उनके हालात के बारे में पता है, लेकिन वह उनसे कोई उम्मीद नहीं लगा रहे हैं क्योंकि सचिन ने उनकी काफी मदद की है।

बता दे, इससे पहले कांबली ने साल 2019 में आखिरी बार किसी टीम की कोचिंग दी थी, जहां वह टी-20 मुंबई लीग में शिवाजी पार्क लायंस टीम से जुड़े हुए थे। इसके बाद साल 2020 में कोरोना ने पूरी दुनिया में तांडव मचाया, जिससे ना सिर्फ आम आदमी बल्की कांबली जैसे व्यक्ति भी प्रभावित हो गए। इस महामारी के प्रकोप ने कांबली के पास बचे कमाई के साधनों को भी खत्म कर दिया।

इतनी है विनोद कांबली की नेटवर्थ

एक रिपोर्ट के मुताबिक, विनोद कांबली की नेट वर्थ 1 से 1.5 मिलियन डॉलर के बीच है। 2022 की शुरुआत में आए डाटा के अनुसार, उनकी सालाना आय सिर्फ 4 लाख रुपये ही रह गई है। हालांकि, उनके पास मुंबई में खुद का घर है, लेकिन देश की आर्थिक राजधानी में जीवन यापन के लिए यह पर्याप्त नहीं है।

ये नहीं पढ़े … इमरान ताहिर ने द हंड्रेड में ट्रेडमार्क स्प्रिंट और क्रिस्टियानो रोनाल्डो के ‘सिउ’ के साथ बनाया विकेट का जश्न, देखें वीडियो

एक्टिंग भी कर चुके है कांबली

क्रिकेट से दूर होने के बाद भी कांबली के पास कमाई के कई जरिये थे, जिसमें कमेंट्री और विज्ञापन शामिल है। इतना ही नहीं उन्होंने फिल्मों और टीवी शोज में एक्टिंग की है।