Credit Card Rules: देश के सबसे बड़े प्राइवेट बैंक ने बदले क्रेडिट कार्ड से जुड़े नियम, 1 अगस्त से होंगे लागू, पढ़ें पूरी खबर 

एचडीएफसी बैंक ने क्रेडिट के शुल्क में बड़ा बदलाव किया है। अगस्त में नए नियम लागू होंगे। यूजर्स को कुछ सुविधाओं के लिए एक्स्ट्रा चार्ज का भुगतान करना होगा।

Manisha Kumari Pandey
Published on -
Credit Card New Rules

Credit Card Rules: देश के सबसे बड़े प्राइवेट सेक्टर बैंक HDFC Bank ने क्रेडिट कार्ड से जुड़े नई बदलाव किए हैं। 1 अगस्त से नए नियम लागू हो जाएंगे। इन बदलावों का असर यूजर्स पर भी पड़ेगा। यदि आप भी एचडीएफसी बैंक क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल करते हैं तो यह खबर आपके काम की साबित हो सकता है। नए नियमों के तहत एजुकेशनल ट्रांजेक्शन पर भी शुल्क लगेगा। साथ ही थर्ड पार्टी ऐप का इस्तेमाल करने पर भी 1% चार्ज लगेगा। late फीस में भी बदलाव किया गया है। आइए एक नजर इन बदलावों पर डालें:-

क्रेडिट कार्ड फीस बढ़ी 

बैंक ने 6E रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड के लिए कर्षिक और नवीनीकरण शुल्क को बढ़ाने की घोषणा कर दी है। 6ई रिवार्ड्स क्रेडिट कार्ड पर वार्षिक नवीनीकरण शुल्क 1500 रुपए+जीएसटी होगा। वहीं 6ई रिवार्ड्स एक्सएल-इंडिगो क्रेडिट कार्ड का शुल्क 3000 रुपए+जीएसटी होगा।

विलंब शुल्क में बदलाव 

एचडीएफसी बैंक ने विलंब शुल्क में भी बदलाव किया है। चार्ज बैंक की बकाया राशि स्लैब के आधार पर 100 रुपए से लेकर 1300 रुपए के बीच में रहेगा।

आसान ईएमआई पेमेंट ऑप्शन के लिए प्रोसेसिंग फीस 

ऑनलाइन या ऑफलाइन Easy EMI का ऑप्शन चुनने पर बैंक 299 रुपए प्रोसेसिंग फीस लगाएगा। बता दें कि एचडीएफसी स्मार्ट ईएमआई सुविधा के जरिए यूजर्स अपने क्रेडिट कार्ड बिल को ईएमआई में बदल सकते हैं।

थर्ड पार्टी ऐप के इस्तेमाल पर भी लगेगा चार्ज 

यदि यूजर्स थर्ड पार्टी ऐप्स जैसे की पेटीएम, फ्रीचार्ज, मोबिक्विक और अन्य का इस्तेमाक करते हैं तो उन्हके 1% शुल्क भुगतान करना होगा। चार्ज की अधिकतम सीमा 4,000 रुपए होगी।

इन सुविधाओं पर भी लगेगा एक्स्ट्रा चार्ज

  • बैंक ने उपयोगिताओं पर भी शुल्क लगाने का निर्णय लिया है। 50 हजार से अधिक के ट्रांजेक्शन पर 1% एक्स्ट्रा चार्ज लगेगा। शुल्क प्रति लेनदेन 3000 रुपए तक ही रहेगा। हालांकि बीमा के लेनदेन पर यह चार्ज लागू नहीं होगा।
  • इंटरनेशनल करेंसी के लेनदेन पर 3.5% मार्कअप शुल्क लगाया जाएगा।
  • थर्ड पार्टी ऐप का इस्तेमाल करके यदि कोई यूजर्स एजुकेशनल लेनदेन करता है तो उसे 1% शुल्क का भुगतान करना होगा। शुल्क की राशि 3000 रुपए से अधिक नहीं होगी।
  • क्रेडिट कार्ड के जरिए 15,000 रुपए से अधिक का ईंधन खरीदने पर 1% चार्ज भुगतान करना होगा।

 

 


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News