Upcoming IPO: अगले सप्ताह आ रहा है इस कंपनी का आईपीओ, 4 जनवरी तक मिलेगा दांव लगाने का मौका

Manisha Kumari Pandey
Published on -

Upcoming IPO Next Week: इस महीने कई कंपनियों के इनिशियल पब्लिक ऑफरिंग ने शेयर मार्केट में दस्तक दी। बस कुछ दिनों में ही साल 2022 खत्म होने जा रहा है। इससे पहले साह पॉलीमर्स अपना आईपीओ खोलने जा रही है। यह 30 दिसंबर 2022 को ओपन होगा और निवेशक 4 जनवरी 2022 तक दांव लगा पाएंगे। यदि आप भी IPO में निवेश करके मुनाफा कमाना चाहते हैं तो यह आपके लिए सुनहरा मौका हो सकता है।

आईपीओ की डिटेल्स

साह पॉलिमर्स (Sah Polymers) के आईपीओ साइज़ और प्राइस बैंड की जानकारी अब तक सामने नहीं आई है। इसके जरिए कंपनी 1,02.00,000 शेयरों को बेचने की तैयारी में है, जो पूरी तरह से फ्रेश इश्यू होगा। मार्केट में इसकी लिस्टिंग के लिए 12 जनवरी 2023 की तारीख फिक्स की गई है। रिपोर्ट की माने तो कंपनी ने QIB के लिए 75%, रिटेल केटेगरी के लिए 10% और HNI के लिए 15% का रिजर्वेशन पर रखा है।

कंपनी के बारे में

कंपनी इससे आईपीओ से मिलने वाले फंड का इस्तेमाल नए फ्लैग्जिबल इंटरमिडीएट बल्क कन्टेनर्स प्लांट्स ने विनिर्माण और उत्पादन क्षमता को एक्सपैंड करने में किया जाएगा। साथ ही फंड का यूज कर्ज चुकाने के लिए भी किया जाएगा। बता दे की साह पॉलीमर्स हाई क्वालिटी वे पॉलिथिलीन एफआईबीसी बैग, बुना कपड़ा, बोर और पॉलीमर्स प्रॉडक्ट्स का उत्पादन और सेल करती है।

Disclaimer: इस खबर का उद्देश्य केवल जानकारी शेयर करना है। एमपी ब्रेकिंग न्यूज किसी भी स्कीम, आईपीओ और शेयर मार्केट में निवेश करने की सलाह नहीं देता। यह जोखिम भरा हो सकता है। विशेषज्ञों की सलाह जरूर लें।


About Author
Manisha Kumari Pandey

Manisha Kumari Pandey

पत्रकारिता जनकल्याण का माध्यम है। एक पत्रकार का काम नई जानकारी को उजागर करना और उस जानकारी को एक संदर्भ में रखना है। ताकि उस जानकारी का इस्तेमाल मानव की स्थिति को सुधारने में हो सकें। देश और दुनिया धीरे–धीरे बदल रही है। आधुनिक जनसंपर्क का विस्तार भी हो रहा है। लेकिन एक पत्रकार का किरदार वैसा ही जैसे आजादी के पहले था। समाज के मुद्दों को समाज तक पहुंचाना। स्वयं के लाभ को न देख सेवा को प्राथमिकता देना यही पत्रकारिता है। अच्छी पत्रकारिता बेहतर दुनिया बनाने की क्षमता रखती है। इसलिए भारतीय संविधान में पत्रकारिता को चौथा स्तंभ बताया गया है। हेनरी ल्यूस ने कहा है, " प्रकाशन एक व्यवसाय है, लेकिन पत्रकारिता कभी व्यवसाय नहीं थी और आज भी नहीं है और न ही यह कोई पेशा है।" पत्रकारिता समाजसेवा है और मुझे गर्व है कि "मैं एक पत्रकार हूं।"

Other Latest News