Gwalior News : सबसे अधिक वैक्सीनेशन करने वाले दल को किया जाएगा सम्मानित

सभी  वैक्सीनेशन सेंटर लोग पहुँचें और वैक्सीनेशन कराएं, इसके लिये पंचायत स्तर एवं जनपद स्तर पर गठित क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के माध्यम से भी जन जागरूकता का कार्य किया जा रहा है।

ग्वालियर, अतुल सक्सेना।  कोरोना संक्रमण (Corona Infection) की तीसरी लहर से बचाव के लिए जिला प्रशासन की टीम अभी से जुट गए है।  इसके लिए कोरोना गाइड लाइन के सख्ती से पालन के साथ साथ वैक्सीनेशन (Vaccination) को बढ़ावा देने पर जोर दिया जा रहा है। जिले के कोरोना प्रभारी मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर (Pradyuman Singh Tomar) ने सोमवार को जिले के प्रशासनिक अधिकारियों के साथ बैठक में निर्देश दिए कि कोरोना संक्रमण न फैले इसके लिये सभी एहतियाती कदम उठाए जाएं। कोरोना की रोकथाम के लिये वैक्सीनेशन सबसे आवश्यक है। जिले में वैक्सीनेशन को और गति प्रदान की जाए। आवश्यकता हो तो वैक्सीनेशन सेंटर  भी बढ़ाए जाएं।  इसके साथ साथ सर्वाधिक वैक्सीनेशन करने वाले दलों को प्रोत्साहित भी किया जाए, उन्हें सम्मानित भी किया जाये।

नगर निगम के बाल भवन में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिये किए जा रहे प्रबंधनों के संबंध में आयोजित इस बैठक में जिले के कोरोना प्रभारी एवं प्रदेश के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर ने कहा है कि नगर निगम के माध्यम से सम्पूर्ण शहर में जो सेनेटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है उसे निरंतर जारी रखा जाए। वैक्सीनेशन को प्रोत्साहित करने के लिए अधिक से अधिक केन्द्र खोले जाकर वैक्सीनेशन का कार्य किया जाए और जिन केन्द्रों पर सर्वाधिक वैक्सीनेशन  हो, वहाँ की टीमों को प्रति सप्ताह प्रोत्साहित एवं सम्मानित करने का कार्य भी जिला प्रशासन के माध्यम से किया जाए।
ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने यह भी कहा कि वैक्सीनेशन के प्रति जन जागरूकता पैदा करने हेतु ग्राम पंचायत, ब्लॉक तथा जिला स्तर पर जनप्रतिनिधियों और गणमान्य नागरिकों के साथ निरंतर बैठकें आयोजित कर लोगों को प्रोत्साहित करने की दिशा में कार्य किया जाए। उन्होंने यह भी कहा कि जनप्रतिनिधियों के साथ-साथ जिला एवं ब्लॉक स्तर पर गठित जिला शांति समिति के सदस्यों और समाज के अन्य प्रमुख लोगों को भी बैठक में आमंत्रित कर वैक्सीनेशन के लिये जन जागरूकता का कार्य करने हेतु आग्रह किया जाए।

ये भी पढ़ें – MP: शासकीय मेडिकल कॉलेजों में डॉक्टरों के मासिक स्टायपेंड में वृद्धि, आदेश जारी

ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने बैठक में कहा कि कोरोना का संक्रमण जिले में कम हुआ है, लेकिन आगे इस प्रकार का संक्रमण न फैले, इसके लिये हमें निरंतर कार्य करते रहने की आवश्यकता है। स्वास्थ्य सेवाओं के विस्तार के साथ-साथ निर्धारित की गई आगामी स्वास्थ्य कार्ययोजना पर भी हमें तेजी से अमल करने की आवश्यकता है। जिले में संक्रमण की रोकथाम के लिये सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराया जाए। इसके साथ ही लोग घर से निकलते समय मास्क अवश्य पहनें, यह भी सुनिश्चित किया जाए। किसी भी प्रकार के आयोजनों को जिसमें भीड़ इकठ्ठा होने की संभावना है, अनुमति प्रदान न की जाए।

ये भी पढ़ें – MP में एक्टिव केस 9 हजार से नीचे, सीएम बोले- 15 जून तक जारी रहेगा कर्फ्यू और..

कलेक्टर कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बैठक में बताया कि जिले में कोविड संक्रमण न फैले, इसके लिये सभी एहतियाती कदम उठाए गए हैं। शहर के साथ-साथ ग्रामीण क्षेत्रों में भी सोशल डिस्टेंसिंग का पालन तथा सभी लोग मास्क पहनें, इसके लिये अभियान चलाया जा रहा है। बाजारों में भी सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क की अनिवार्यता के लिये दल गठित कर जन जागरूकता का कार्य भी किया जा रहा है। उन्होंने बताया कि प्रशासन की तरफ से गठित दल द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने तथा बिना मास्क के घूमने वालों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्रवाई भी की जा रही है।

ये भी पढ़ें – चला था इंजीनियर बनने, बना लिया बाइक चोर गिरोह, 24 टू व्हीलर बरामद 

पुलिस अधीक्षक अमित सांघी ने बैठक में जानकारी दी कि सोशल डिस्टेंसिंग एवं मास्क की अनिवार्यता के लिये सभी थाना क्षेत्रों में निरंतर चैकिंग प्वॉइंट स्थापित कर कार्रवाई की जा रही है। बिना मास्क के घूमने वालों के विरुद्ध चालान की कार्रवाई भी पुलिस निरंतर कर रही है। उन्होंने कहा कि थाना स्तर पर भी जनप्रतिनिधियों एवं गणमान्य नागरिकों की बैठकें आयोजित कर वैक्सीनेशन को प्रोत्साहित करने का कार्य किया जाएगा।

ये भी पढ़ें – Electricity Bill: ऊर्जा मंत्री के निर्देश के बाद मप्र के बिजली उपभोक्ताओं को बड़ी राहत

नगर निगम आयुक्त शिवम वर्मा ने बैठक में बताया कि निगम के माध्यम से शहर के सभी वार्डों में स्वच्छता के साथ-साथ सेनेटाइजेशन का कार्य भी किया जा रहा है। प्रचार वाहनों के माध्यम से टीकाकरण और सोशल डिस्टेंसिंग के लिये व्यापक प्रचार-प्रसार का कार्य किया जा रहा है। सीईओ जिला पंचायत किशोर कान्याल ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्र में कोरोना संक्रमण की रोकथाम और वैक्सीनेशन के कार्य को अभियान के रूप में चलाया जा रहा है। सभी  वैक्सीनेशन सेंटर लोग पहुँचें और वैक्सीनेशन कराएं, इसके लिये पंचायत स्तर एवं जनपद स्तर पर गठित क्राइसेस मैनेजमेंट समिति के माध्यम से भी जन जागरूकता का कार्य किया जा रहा है।