‘हर हर शंभू’ की गायिका के गाने का एक और वीडियो हुआ वायरल

शिव शंकर के ऊपर फिल्माया हुआ गीत 'हर हर शंभू' की गायिका अभिलिप्सा पांडे एक बार फिर अपने गाने को लेकर चर्चा में बनी हुई है

मुबंई, डेस्क रिपोर्ट | शिव शंकर के ऊपर फिल्माया हुआ गीत ‘हर हर शंभू’ की गायिका अभिलिप्सा पांडे एक बार फिर अपने गाने को लेकर चर्चा में बनी हुई है। बता दें कि अभिलिप्सा पांडे ने सावन के महीने की शुरुआत होने से पहले ‘हर हर शंभू’ गाने को गाया था। जिसके बाद वह करोड़ों लोगों की जुबां पर छाई हुई थी। पूरे सावन भर उनके गीत ने हर जगह गाने से भक्ति में लीन कर दिया था।

यह भी पढ़ें – IRCTC के साथ नवरात्रि में कीजिये मां वैष्णो देवी के दर्शन, भारत गौरव टूरिस्ट ट्रेन से यात्रा होगी कम्फर्ट

जिसके बाद एक बार फिर अभिलिप्सा ने नवरात्रि के अवसर पर नवरात्रि के पहले दिन एक गाना लेकर आई हैं जो कि इंटरनेट पर खूब धूम मचा रहा है। इस गाने की बोल “नव दुर्गे नमो नमः” टाइटल दिया गया है। इस वीडियो में गायिका माता की भक्ति में लीन नजर आ रही हैं। बता दें कि इस वीडियो में वह लाल साड़ी में नजर आ रही है। साथ ही उनका मेकअप उनके फैंस को आकर्षित कर रहा है। बता दें कि गाने में लोग इतना पसंद कर रहे हैं कि अब तक करीब 15 हजार से ज्यादा लाइक्स मिल चुके हैं। बता दें कि इस गाने को संदीप कपूर ने लिखा है जिसका म्यूजिक प्रीतम रावत ने दिया है। साथ ही इस गाने में डांस भी करते देखा गया है। इसमें पूरे गाने में गायिका के साथ-साथ एक डांसर भी मां की भक्ति में लीन नजर आ रही हैं। जिनके आकर्षक वस्त्र गाने में चार चांद लगा रहा है।

यह भी पढ़ें – मोबाइल चलाने से 75% माता-पिता हो चुके हैं डिप्रेशन के शिकार, जल्दी ही खो बैठते हैं आपा

कुछ समय पहले इनका गाना ‘हर हर शंभू’ विवादों में गिर गया था। बता दें कि लोगों ने इस बात पर नाराजगी जाहिर की थी कि फरमानी नाज मुस्लिम होकर हिंदू भजन गा रही है। जिसे लेकर कुछ लोगों ने कई सारे सवाल खड़े किए थे लेकिन बाद में इस बात का खुलासा हुआ कि इसकी असल गायिका फरमान नाज नहीं बल्कि अभिलिप्सा पांडे हैं जिन्हें बचपन से ही गाने का बहुत शौक था। जिसके लिए वह काफी समय से गाने की प्रैक्टिस करती हैं।

यह भी पढ़ें – Infinix Zero Ultra 5G इस दिन होगा लॉन्च, मिलेगा 200MP का कैमरा, किफायती होगी इसकी कीमत, यहाँ जानें

अपने इंटरव्यू के दौरान अभिलेख अभिलिप्सा पांडे ने कहा था कि, ‘संगीत और कला मुझे विरासत में मिली है। मेरे पैरंट्स और ग्रैंड पैरंट्स सभी कला के क्षेत्र से जुड़े हैं। मेरे दादाजी ओडिशा के फेमस कथाकार रह चुके हैं। मेरी मां भी हिंदुस्तानी क्लासिकल वोकल और ओडिसी डांस में माहिर है। साथ ही मेरे पिता भी कला के क्षेत्र से ही जुड़े हुए हैं। मेरे नानी ने सबसे पहले उन्हें मंत्र गाना सिखाया और जब मंत्रों में को सुर में गाने लगी तब से मैंने गाना गाना शुरू कर दिया’।

यह भी पढ़ें – भोपाल के पॉश इलाके में बदमाशों ने मचाया हंगामा, फोड़े गाड़ियों के कांच, दहशत में रहवासी