कर्मचारियों-उम्मीदवारों के लिए बड़ी खबर, अनुकंपा नियुक्ति पर नई अपडेट, मंत्री का बड़ा बयान, इस तरह मिलेगा लाभ

employees

Employees Compassionate Appointment : प्रदेश में अनुकंपा नियुक्ति को लेकर कई लंबित मामले के बीच उम्मीदवार अनुकंपा नियुक्ति की मांग कर रहे हैं। इसी बीच शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान सामने है। विधानसभा में बोलते हुए शिक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया है कि प्रदेश में लगातार पात्रता परीक्षा हो रही है और प्रतिवर्ष परीक्षा आयोजित की जा रही है।

विभागीय परीक्षा लेकर उम्मीदवारों को शिक्षक बनाया जाएगा

अनुकंपा नीति पर बोलते हुए मध्य प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने कहा कि प्रदेश में लगातार पात्रता परीक्षा हो रही है और प्रतिवर्ष परीक्षा आयोजित की जाएगी। रिक्त पदों को भरने का काम किया जा रहा है। हालांकि जिसने एक बार पात्रता परीक्षा पास कर ली है, उसे बार-बार परीक्षा देने की आवश्यकता नहीं होगी और विभागीय परीक्षा लेकर उम्मीदवारों को शिक्षक बनाया जाएगा।

अनुकंपा नियुक्ति से शिक्षक बनने के लिए सभी को पात्रता परीक्षा पास करना अनिवार्य

अनुकंपा नियुक्ति के आधार पर शिक्षक बनने के सवाल पर शिक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया है कि शिक्षक के पद पर योग्यता के साथ समझौता नहीं किया जा सकता। ऐसे में सभी को पात्रता परीक्षा पास करना अनिवार्य है।इसलिए पात्रता परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है। स्कूल मंत्री इंदर सिंह परमार ने कहा कि अनुकंपा नियुक्ति से शिक्षक बनने के लिए सभी को पात्रता परीक्षा पास करना अनिवार्य होगा।

आंकड़ों की जानकारी 

स्कूल शिक्षा मंत्री ने जानकारी देते हुए बताया कि अनुकंपा नियुक्ति के 54 मामले शिक्षा विभाग से संबंधित है। जिनमें कुछ पद निकाय के अधीन थे और उनका शिक्षा विभाग में संविलियन होने से पूर्व उनका निधन हो गया है। इस कारण से उनकी नियुक्ति का कोई प्रावधान नहीं है। जबकि कुछ संविदा के मामले ऐसे हैं, जिनके पद की मांग की गई है। उस दायरे में ही नहीं आते हैं। ऐसे में उन्हें अनुकंपा नियुक्ति का लाभ नहीं दिया जा सकता।

शिक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया है कि यदि अनुकंपा नियुक्ति के उम्मीदवार पात्रता परीक्षा पास कर लेते हैं तो उन्हें विज्ञान शिक्षक के पद पर अनुकंपा नियुक्ति दे दी जाएगी। इसके लिए पात्रता परीक्षा पास करनी होगी क्योंकि बिना योग्यता के किसी भी शिक्षक के पद पर भर्ती नहीं की जाएगी। शिक्षा के अधिकार अधिनियम में भी इसके प्रावधान किए गए हैं। जिसका पालन करना उम्मीदवारों के लिए आवश्यक होगा।

यह होंगे नियम 

इसके साथ ही शिक्षा मंत्री ने स्पष्ट किया है कि ऐसे कई उम्मीदवार हैं, जो अनुकंपा नियुक्ति की राह देख रहे हैं। सभी को पात्रता परीक्षा पास करना अनिवार्य है। जो शिक्षक नहीं बनना चाहते, उन्हें विभाग द्वारा अनापत्ति प्रमाण दिया जा रहा है ताकि दूसरे विभाग में उनकी नियुक्ति की जाए। पात्रता परीक्षा पास करना अनिवार्य होगा अन्यथा अनुकंपा नियुक्ति के आधार पर शिक्षक बनने की प्रक्रिया को पूरा नहीं किया जा सकेगा।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News