क्या आपकी भी है ज्यादा नमक खाने की आदत, तो अभी संभल जाए वरना बुरे पछताओगे

अधिक मात्रा में नमक का सेवन आपको दिल और किडनी के रोगों से ग्रसित कर सकता है। यही वजह है कि डॉक्टर भी मरीजों को नमक हेल्थ अनुसार खाने के लिए सलाह देते हैं ना की स्वाद अनुसार।

जीवनशैली, डेस्क रिपोर्ट। नमक हमारे शरीर के लिए एक महत्वपूर्ण तत्व है। जिससे हमें सोडियम की प्राप्ति होती है। नमक किसी भी घर में सबसे महत्वपूर्ण चीज है क्योंकि इसके बिना भोजन अच्छा ही नहीं लगता है। नमक का सेवन करना अच्छी बात है लेकिन कई दफा ऐसा देखा गया है कि लोग बहुत ज्यादा नमक खाते हैं। भोजन में उपयुक्त नमक होने के बाद भी वह ऊपर से अलग से नमक डालकर खाते हैं। अगर आप भी ऐसा करते हैं तो सावधान हो जाइए क्योंकि अधिक मात्रा में नमक का सेवन आपको दिल और किडनी के रोगों से ग्रसित कर सकता है। यही वजह है कि डॉक्टर भी मरीजों को नमक हेल्थ अनुसार खाने के लिए सलाह देते हैं ना की स्वाद अनुसार।

यह भी पढ़ें – Twitter ने किया अपने आप में खास बदलाव, हर यूजर्स को आएगा बेहद ही पसंद

जैसा कि आप सभी जानते हैं कि खाने में कम नमक और ज्यादा नमक दोनों ही खाने का स्वाद बिगाड़ देता है। उसी तरह शरीर में नमक की कमी या उसकी अधिकता प्रतिकूल प्रभाव डालता है। तो आइये जानते हैं सोडियम का दुष्प्रभाव

  • सोडियम अधिक मात्रा होने पर खून के रक्त संचार को बढ़ा देता है, जिससे आपका बीपी बढ़ जाता है और हार्ट अटैक की आशंका बन जाती है।
  • नमक ज्यादा पानी सोखता है, इसलिए हाई बीपी के जो मरीज नमक ज्यादा खाते हैं उनके शरीर में संतुलन बनाने के लिए नमक रक्त प्रवाह में से पानी को सोखने लगता है। जिससे धमनियों में दबाव बढ़ता है और ऐसे में किडनी को ज्यादा मेहनत करनी पड़ती है। ऐसा बार बार करने से किडनी फेलियर के चांसेस बढ़ जाते हैं।

यह भी पढ़ें – मारुति सुजुकी ने सीएनजी के साथ 7 सीटर कार लांच की, मात्र 11 हजार से कर सकते हैं बुकिंग

  • किडनी शरीर के हानिकारक तत्व को रक्त से छान कर बाहर निकाल देती है। लेकिन सोडियम की मात्रा बढ़ने से यूरिया की मात्रा ब्लड में बढ़ जाती है। जिससे किडनी में संक्रमण होने का खतरा होता है और यह स्थाई नुकसान भी पहुंचा सकता है।
  • यदि आपको त्वचा में जलन, लालीपन, खुजली व संक्रमण है तो आपको नमक कम खाना चाहिए।
  • जो लोग खाने में नमक डालने के बाद भी ऊपर से नमक डालकर खाते हैं वह तनाव हाई बीपी त्वचा की समस्याओं के साथ आपके सर दर्द को भी बढ़ाता है इसलिए कच्चा नमक नहीं खाएं।
  • कोशिश करें सेंधा नमक ज्यादा खाने की क्योंकि आयुर्वेद में इसे हल्का और शुद्ध माना गया है यह शरीर के तापमान को ठंडा रखता है और पाचन को दुरुस्त करता है इसे इम्यूनिटी के लिए भी अच्छा माना गया है साथ ही यह बढ़ते हुए वजन को भी कम करता है इसमें सोडियम कम और पोटेशियम ज्यादा होता है जो आपके बीपी को काबू में भी रखता है।

यह भी पढ़ें – Dabra News: खुशियां बदली मातम में, हादसे में आर्मी जवान की मौत

ध्यान रखने योग्य बातें

  • प्रतिदिन 5 ग्राम से ज्यादा नमक नहीं खाना चाहिए
  • खाना पकने के बाद ऊपर से कच्चा नमक मिलाकर नहीं खाना चाहिए
  • प्रिजर्वेटिव और पैक्ड खाना नहीं खाना चाहिए। घर का बना खाना खाएं। प्रिजर्वेटिव खाना में नमक की क्वांटिटी ज्यादा होती है।
  • फल और मेवे में नमक बिना मिलाये खाना चाहिए।