क्लीन एंड क्लियर स्किन के मामले में गाय और भैंस के दूध से ज्यादा फायदेमंद है इस जानवर का दूध

Amit Sengar
Published on -

Benefits of Milk For Skin : डेंगू जैसी बीमारी से पीड़ित हों तो प्लेटलेट्स काउंट बढ़ाने के लिए बकरी का दूध पीने की सलाह दी जाती है। स्किन से जुडी कई समस्याओं को दूर करने में भी ये दूध, गाय या भैंस के दूध से ज्यादा फायदेमंद है। स्किन से जुड़ी कई तकलीफों को खत्म कर बकरी का दूध हेल्दी और क्लीन स्किन देता है। बकरी के दूध में विटामिन सी, बी 12, ए, डी और बी6 जैसे पोषक तत्व होते हैं।। साथ ही कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, फास्फोरस, पोटैशियम, सोडियम और जिंक की भी इसमें कमी नहीं होती। स्किन पर इसे लगाने से ग्लोइंग और हेल्दी स्किन हासिल की जा सकती है।

ड्राई स्किन के लिए

अगर आपकी स्किन बहुत ड्राई या सेंसिटिव है तो बकरी का स्किन आपके लिए बहुत फायदेमंद हो सकता है। बकरी के दूध से स्किन के क्लीन तो होती ही है। साथ में स्किन को मॉश्चराइज करने में भी बकरी का दूध कारगर होता है। जिससे स्किन हाइड्रेट भी होती है साथ ही नर्म और मुलायम भी होती है।

विटामिन की खुराक

बकरी के दूध में कई विटामिन्स होते हैं। इसमें विटामिन ए और विटामिन सी भी खासी मात्रा में पाए जाते हैं। साथ ही फैटी एसिड भी खूब होते हैं। जिनसे स्किन नरिश होती है। यही नरिशमेंट स्किन को हेल्दी और ग्लोइंग बनाता है।

एक्सफोलिएट करे

बकरी के दूध में मौजूद लैक्टिक एसिड स्किन को एक्सफोलिएट करता है। इस खासियत के चलते ये डेड स्किन को आसानी से रिमूव करता है। साथ ही सोरायसिस और एक्जिमा जैसी स्किन प्रॉब्लम होने पर भी बकरी का दूध राहत देने में कारगर हो सकता है।

ऑयली स्किन के लिए

बकरी का दूध ऑयली स्किन की गहराई में जाकर उसे डीप क्लीन करता है। इसके बाद ये नरिशमेंट को स्किन में ही लॉक भी करता है। जिसकी वजह से चेहरे पर एक्सिस ऑयल दिखाई नहीं देता।

कैसे उपयोग करें बकरी का दूध?

बकरी के दूध को एक कटोरी में लेकर रूई या स्पंज की मदद से चेहरे पर लगाएं। कुछ देर बाद फेसवॉश कर लें। पहली बार बकरी का दूध लगा रहे हैं तो सीधे चेहरे पर लगाने की जगह उसे हाथ की स्किन पर एप्लाइ करें। कोई एलर्जी न होने पर ही उसे चेहरे पर लगाएं।

*Disclaimer :- यहाँ दी गई जानकारी अलग अलग जगह से जुटाई गई एक सामान्य जानकारी है। MP Breaking news इसकी पुष्टि नहीं करता है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News