भिंड, डेस्क रिपोर्ट। ज्योतिरादित्य सिंधिया ने शुक्रवार को सिविल एविएशन मिनिस्ट्री (नागर विमानन मंत्रालय) का पदभार संभाल लिया है। इस पर मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ जी ने उन्हें बधाई देते हुए साथ में तंज भी कसा और कहा कि यह बीजेपी और सिंधिया जी के बीच का मामला है देखते है यह गाड़ी आगे कैसे चलेगी ? कमलनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के दाढ़ी बढ़ाने पर भी कटाक्ष किया जिस पर पलटवार करते हुए प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य डॉ रमेश दुबे ने कहा है आदरणीय कमलनाथ जी वृद्ध नेता हैं, सीनियर हैं, उन्हें अपनी गरिमा का ध्यान रखना चाहिए। उनकी खुद की गाड़ी उनसे संभली नहीं। मात्र डेढ़ वर्ष में ही उनकी गाड़ी का गुल्ला टूट गया और सरकार गिर गई।

OBC Reservation: कमलनाथ के मास्टरस्ट्रोक से हलचल! काट ढूंढने में जुटी BJP

डॉ रमेश दुबे ने कहा कि अब जब श्रीमंत ज्योतिरादित्य सिंधिया की कार्यक्षमता योग्यता संयम और अनुशासन को देखकर प्रधान मंत्री और भाजपा शीर्ष नेतृत्व ने उन्हें कैबिनेट में जगह देकर एक महत्वपूर्ण मंत्रालय की जिम्मेवारी दी है तो कमलनाथ जी को हताशा हो रही है। उन्होने कहा कि कमलनाथ जी,सिंधिया जी की गाड़ी छलांगे मारते हुए चलेगी और अपने मुकाम तक सकुशल पहुंचेगी। आप उस गाड़ी की चिंता छोड़कर अपनी गाड़ी की पंचर जुड़वाए, जिससे वो चलने लायक हो जाये।।

कमलनाथ ने देश महंगाई और पेट्रोलियम पदार्थों में वृद्धि के सवाल पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर भी तंज कसा। उन्होंने कहा-महंगाई की कोई सीमा नहीं है। मोदी जी लंबे-लंबे भाषण देते थे। 2013-2014 के भाषण घोषणाएं, स्लोगन दिए थे स्टैंडअप इंडिया, डिजिटल इंडिया यह कहां है? उन्होंने दाढ़ी बढ़ा ली है तो अच्छे लग रहे हैं। उन्होंने एससी-एसटी के लोगों की सुरक्षा की बात कहते हुए उन्हें मध्यप्रदेश में असुरक्षित बताया उनके इस बयान का जवाब देते हुए डॉ रमेश दुबे ने कहा कि जिन एससी-एसटी की आज कमलनाथ जी याद कर रहे हैं, तब कहाँ थे जब उनकी सरकार थी और दलित वर्ग भयभीत था। आज तो प्रधानमंत्री मोदी  पूरे देश में और मुख्य मंत्री शिवराज सिंह चौहान मध्यप्रदेश में भय मुक्त समाज के लिए निरंतर प्रयास कर रहे है। समाज के हर वर्ग में शांति है तरक्की है। डॉ रमेश दुबे ने कहा है कि कमलनाथ जी का मानसिक संतुलन उम्र और बीमारियों के चलते गड़बड़ा गया है तभी वे देश के प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी की दाढ़ी तक पर निशाना साध रहे हैं। किसी के भी निजी पहनावे निजी जीवन शैली पर टीका टिप्पणी करना उसे भी राजनीति के चश्मे से देखना ये मानसिक दिवालियापन है। डॉ दुबे ने कहा कि कमलनाथ जी वृद्ध हैं बीमार भी हैं तो अच्छा हो अपना इलाज अच्छे से करवाये और घर पर रहकर आराम करें। उनके लिए यही उचित होगा। जहां तक मध्यप्रदेश की बात है तो ज्योतिरादित्य सिंधिया के कैबिनेट मंत्री बनने से पूरे प्रदेश की जनता हर्षित है और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान जी के हाथों में पूरे प्रदेश में हर वर्ग जनता पूरी तरह सुरक्षित है।