पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने विधानसभा अध्यक्ष पर उठाए सवाल

भोपाल, डेस्क रिपोर्ट। अब पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने विधानसभा अध्यक्ष पर ही सवाल खड़े कर दिए है, दरअसल प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ के विधानसभा की कार्यवाही के संबंध में दिए गए बयान पर विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम की टिप्पणी पर प्रतिक्रिया देते हुए प्रदेश कांग्रेस के मीडिया अध्यक्ष पूर्व मंत्री एवं विधायक जीतू पटवारी ने कहा कि विधानसभा अध्यक्ष की प्रतिक्रिया उचित नहीं है।

यह भी पढ़ें…. देवास बच्ची चोरी का मामला, SP ने गठित की SIT, बच्ची का अब तक कोई सुराग नहीं

उन्होंने विधानसभा अध्यक्ष से सवाल करते हुए 3 ट्वीट किए। पूर्व मंत्री जीतू पटवारी ने कहा कि कमलनाथ की सरकार ने अपने पहले साल में 24 बैठकें, 118 घंटे काम किया। पुनः निवेदन – सत्र बुलाना व चलाना, सभी को समान अवसर देना, विधानसभा अध्यक्ष की भी जिम्मेदारी है। इसीलिए, निष्पक्ष होने के साथ, निष्पक्ष दिखना भी जरूरी है। जीतू पटवारी ने  विधानसभा अध्यक्ष से पूछा कि वर्ष 2020 की 4 बैठकों में केवल 1 घंटे 53 मिनट चर्चा हुई। 2022 के बजट सत्र में 13 की बजाय 08 बैठक हुई, केवल 21 घंटे सदन चला। विधानसभा सत्र बुलाना व चलाना, समान अवसर देना, अध्यक्ष की बुनियादी जिम्मेदारी है, क्या ऐसा हुआ? उन्होंने पूछा कि अध्यक्ष , छोटा मुंह, बड़ी बात और अग्रिम क्षमा के साथ निवेदन है “आपका पद सत्तापक्ष नहीं, निष्पक्ष होता है, नियम-कानून से चलने वाली संवैधानिक गतिविधियों को भी यदि मीडिया के जरिए साझा किया जाएगा, तो मुझे नहीं लगता कि पद की गरिमा बढ़ेगी।”