देश विरोधी गतिविधियों को लेकर बागली में हिंदू संगठनों ने बाइक रैली निकाल, जलाया पाकिस्तान का झंडा

बाईक रैली के रूप में तहसील कार्यालय पहुँच कर तहसीलदार राधा महंत को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। इसके पूर्व कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए पाकिस्तान के झंडे को जलाया व जमकर प्रदर्शन किया।

बागली, सोमेश उपाध्याय। मप्र (MP) के उज्जैन-इंदौर (Ujjain-Indore) में हुई घटना से नाराज हिंदू संगठनों ने बुधवार विश्व हिंदू परिषद मालवा प्रान्त के बैनर तले प्रदर्शन कर ज्ञापन दिया। कार्यकर्ताओं ने थाने चौराहे पर पाकिस्तान का झंडा सड़क पर रख लात-घुसे मारे व भारत माता की जय के नारे लगाए। ततपश्चात बाईक रैली के रूप में तहसील कार्यालय पहुँच कर तहसीलदार राधा महंत को मुख्यमंत्री के नाम ज्ञापन सौंपा। इसके पूर्व कार्यकर्ताओं ने नारेबाजी करते हुए पाकिस्तान के झंडे को जलाया व जमकर प्रदर्शन किया।

यह भी पढ़ें…जबलपुर पहुंचे सीएम शिवराज और मंत्री गोपाल भार्गव, कोरोना कमांड कंट्रोल रूम का किया निरीक्षण

दोषियों पर रासुका की माँग
ज्ञापन का वाचन प्रखंड मंत्री दौलत यादव ने किया। ज्ञापन में बताया गया कि पिछले कुछ दिनों से इंदौर, उज्जैन, धार सहित प्रदेश के कई जिलों में देश विरोधी नारे लगाए जा रहे हैं। सावन के पवित्र माह में जब कावड़ यात्रा निकालने से रोका गया तो वर्ग विशेष को मोहर्रम के जुलूस की अनुमति कैसे मिली। उनके आयोजनों में पाकिस्तान के समर्थन में राष्ट्रद्रोही नारे लगाए जाते है और भगवान राम पर अपमानजनक शब्द कहे गए। यह घोर आपत्तिजनक है। ऐसे लोगों व आयोजनकर्ताओं पर राष्ट्रद्रोह का प्रकरण दर्ज कर रासुका की कार्रवाई की जावे। साथ ही इन लोगों को चिन्हित कर सम्पत्ति भी जब्त कर नागरिकता भी समाप्त कर दी जाए। वहीं कहा कि अगर इनपर कोई कार्रवाई नहीं होती है तो अन्यथा हिन्दू समाज राष्ट्र व धर्म की रक्षा के लिए सड़क पर उतर कर आन्दोलन करना पड़ेगा।