डबरा में 1 लाख 21 हज़ार हनुमान चालीसा का पाठ कर रचा इतिहास, गृह मंत्री सहित अनेक संत हुए शामिल

डबरा, सलिल श्रीवास्तव। डबरा (Dabra) के लक्ष्मी नारायण मंदिर में आज भव्य 1 लाख 11 हजार 111 हनुमान चालीसा पाठ का महा आयोजन किया गया। इस आयोजन में लक्ष्य से अधिक 1 लाख 21 हज़ार पाठ हुए जिसमें 3840 लोगों की मौजूदगी से हनुमान चालीसा का पाठ किया गया। बता दें, कार्यक्रम में प्रदेश के गृह मंत्री डॉ नरोत्तम मिश्रा पहुंचे थे जहां उन्होंने महा पाठ में आए संत समाज का फूलमाला पहनाकर स्वागत किया और संतो से आशीर्वाद भी लिया।

ये भी पढ़ें- Narottam का तंज, क्या सूट-बूट पहन कर पैदा हुए थे Rahul Gandhi

इस दौरान गृह मंत्री ने कहा कि- आज एक पुनीत कार्य डबरा की धरती पर आयोजित किया जा रहा है, जिसमे कई संत पधारे हैं, और जहां संतो के पैर पड़ते हैं वहां हर व्यधा आपदा दूर हो जाती है। ऐसे ही संत आज डबरा की भूमि पर पधारे हैं, जिसमें चित्रकूट से श्री कोटी तीर्थ महाराज, अयोध्या धाम से संत वैदेही वल्लभ महाराज जैसी महान विभूतियों के दर्शन लाभ पाकर निश्चित ही सभी लोग धन्य हुए हैं। इसी के साथ इस हनुमान चालीसा पाठ में सर्वधर्म समरसता की भी मिसाल देखने को मिली है, जहां सभी धर्म गुरुओं ने महा पाठ में पहुंचकर हनुमान चालीसा के पाठ में सहयोग प्रदान किया हैं। वहीं आयोजन में आए पिछोर से मुस्लिम धर्म के धर्मगुरु जनाब अता मोहम्मद ने कहा कि सभी धर्म बराबर हैं, वे केवल मानवता को मानता हैं, इसलिये वे सभी जगह जाते हैं। उन्होंने कहा कि- मैं धर्म को महत्व नहीं देता, मानवता ही सबसे बड़ा धर्म है।

आपको बता दे कि डबरा के युवाओं ने यह महा संकल्प उठाया था जिसकी तैयारियों का जिम्मा डबरा गल्ला मंडी के पूर्व मंडी अध्यक्ष मुकेश कुमार बंटी गौतम ने अपने कंधों पर लिया था और सभी लोगों से इस महा आयोजन को सफल बनाने का निवेदन भी किया था। कार्यक्रम आज बुधावर सुबह 7:00 बजे से शुरु हुआ जहां बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर महा पाठ में हनुमान चालीसा का पाठ किया। आपको बता दे की यह पहला मौका रहा जब डबरा में इस तरह के बड़े धार्मिक कार्यक्रम का आयोजन किया गया और सभी वर्ग और धर्म के लोगों के साथ भारी संख्या में बच्चे और महिलाओं ने पाठ कर आयोजन को सफल बनाया।