Jabalpur News: जीवित बेटी का छपवाया शोक संदेश, पिता ने रखा मृत्यु भोज

Sanjucta Pandit
Published on -

Jabalpur News : जबलपुर से बड़ी खबर सामने आई है, जहां एक पिता ने अपनी जीवित बेटी का मृत होने का शोक संदेश छपवाकर अपने घर परिवार और रिश्तेदारों में बांटा। दरअसल, अमखेरा में रहने वाली लड़की अनामिका दुबे ने एक लड़के से लव मैरिज कर ली। जिससे नाराज परिजनों ने लड़की को जीते जी मृत घोषित कर दिया और उसके नाम का शोक संदेश कार्ड भी छपवा दिया। बता दें कि चन्द्रिका प्रसाद दुबे की बेटी ने एक विशेष समुदाय के लड़के से प्रेम विवाह किया। जिसके बाद लगातार लड़की के परिवारवालों को ना सिर्फ रिश्तेदार बल्कि हिंदू समाज के लोगों की भी बात सुननी पड़ रही थी। इसलिए अनामिका दुबे के पिता ने एक शोक संदेश कार्ड छपवाया जिसमें उन्होंने अपनी जीती-जागती बेटी को मृत बताते हुए रविवार को नर्मदा तट में पिंडदान करने का कार्यक्रम किया है।

जानें पूरा मामला…

जबलपुर के गोहलपुर में रहने वाली अनामिका और मुस्लिम युवक मोहम्मद अयाज ने प्रेम विवाह किया। दोनों ने कोर्ट मैरिज की, जानकारी जब हिंदू संगठन को लगी तो उन्होंने हंगामा किया। पुलिस ने इस मामले में जांच की तो उनका कहना था कि दोनों ही परिवार वालों के रजामंदी के बाद ही विवाह हुआ है। विवाह के समय अनामिका के परिवार वालों ने मोहम्मद आयज और उसके परिवार वालों को दहेज भी दिया था, जिसमें कि कपड़ों के अलावा घर गृहस्थी का समान भी था। पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि अनामिका और आयज बचपन से एक दूसरे को जानते है और साथ में ही पढ़ा करते थे। स्कूल से लेकर कालेज तक की दोनों ने पढ़ाई की। मोहम्मद आयज जहां गारमेंट कलस्टर का काम किया करता है तो वहीं अनामिका दुबे बुटीक का काम घर पर ही किया करती है।

पुलिस ने जांच में पाया कि अनामिका दुबे और मोहम्मद आयन की लव मैरिज करने के जानकारी दोनों ही परिवार वालों को थी। शुरुआत में लड़की के परिवार वालों ने आपत्ति जताई तो इसको लेकर भारी विरोधाभास हुआ। अनामिका बालिग है, लिहाजा दोनों ने कोर्ट मैरिज की जिसके बाद प्रशासन ने भी इस शादी को स्वीकृत देते हुए वैध माना। अनामिका की शादी को लेकर भारी हंगामा हुआ, विश्व हिंदू परिषदऔर बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने जिला कलेक्ट्रेट सहित एसपी ऑफिस का घेराव भी किया, लेकिन प्रशासन का कहना था कि दोनों ही बालिक हैं और अपने फैसला लेने के लिए स्वतंत्र हैं।

शुरुआती दौर में पता चला कि दोनों ही परिवार इस शादी के लिए तैयार हैं। विवाह को लेकर बकायदा शादी के कार्ड भी छपे और फिर दोनों ही परिवार वालों के रिश्तेदार भी इस विवाह में शामिल हुए थे। जानकारी के मुताबिक, लड़की के परिवार वालों ने बकायदा लड़के और उसके परिवार वालों को दहेज भी दिया था, जिसे पुलिस और प्रशासनिक अधिकारियों ने भी स्वीकार किया है।

Jabalpur News: जीवित बेटी का छपवाया शोक संदेश, पिता ने रखा मृत्यु भोज

रविवार को पिता ने रखा मृत्यु भोज

अनामिका दुबे के द्वारा एक मुस्लिम लड़के से शादी करने के बाद अब उसका शोक संदेश सोशल मीडिया में वायरल हुआ है। जिसमें की शोकाकुल परिवार चंद्रिका प्रसाद दुबे एवं समस्त दुबे परिवार अमखेरा बताया जा रहा है। शोक संदेश में लिखा हुआ है कि बड़े ही दुख के साथ सूचित करना पड़ रहा है कि चंद्रिका प्रसाद दुबे की पुत्री अनामिका दुबे का स्वर्गवास दिनांक 2-4-2023 रविवार को हो गया है, जिसकी आत्मा शांति एवं मृत्यु भोज एवं पिंडदान हेतु 11-6-2023 रविवार को होना निश्चित किया गया है, कृपया पधार कर नरकगामी आत्मा को शांति प्रदान करें। कार्यस्थल सिद्धघाट ग्वारीघाट के बाजू में नर्मदा तट जबलपुर में होगा।

मक्का नगर में रहने वाले मोहम्मद अयाज़ ने अमखेरा में रहने वाली लड़की अनमिका से कलेक्ट्रेट में रजिस्टर्ड शादी की और फिर लड़की का नाम भी बदल दिया। शादी के बाद लड़की का नाम उज़मा फातिमा रख दिया। शादी का यह कार्ड और शादी का प्रमाण पत्र जब सोशल मीडिया में वायरल हुआ तो हिंदू संगठन एसपी आफ़िस का घेराव किया और मुस्लिम लड़के के खिलाफ कार्रवाही की मांग की। लड़का-लड़की ने जनवरी माह में अपर कलेक्टर विमलेश सिंह के कार्यालय में कोर्ट मैरिज रजिस्टर्ड की थी। विवाह प्रमाण पत्र में तीन गवाहों ने दस्तखत भी किए है।

जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News