Jabalpur News : जमीन का झांसा देकर 21 लाख रुपये की ठगी, मुकदमा दर्ज

Amit Sengar
Published on -
shahdol news

Jabalpur News : संपत्ति खरीदने के लिए लोग अपनी मेहनत की कमाई,जमा पूंजी सब कुछ लगा देते हैं,लेकिन अक्सर संपत्ति खरीदने के दौरान कई बार विक्रेता की ओर से खरीददार के लिए समस्या खड़ी कर दी जाती है,संपत्ति का पूरा सौदा होने के बाद भी अक्सर ऐसा देखने में आता है, कि बेचने वाला व्यक्ति रजिस्ट्री करने में आनाकानी करता है, ऐसा ही एक मामला सामने आया जबलपुर में,जहां पाटन तहसील के उजरोड में रहने वाले एक किसान कुंवरलाल पटेल को ज़मीन बेचने के नाम पर एक जालसाज ने अपना शिकार बनाया है,और कुंवरलाल से 21 लाख रूपए हड़प लिए है। रुपए लेने के बाद जब जालसाज ने जमीन की रजिस्ट्री करने में आनाकानी,तो पीड़ित किसान ने मामले की शिकायत पुलिस से की,पीड़ित की शिकायत पर माढ़ोताल पुलिस ने IPC की धारा 420 के तहत धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

यह है मामला

दरअसल, जबलपुर के विजय नगर इलाके में रहने वाले संजू ठाकुर नाम के व्यक्ति ने माढ़ोताल इलाके के औरैया में स्तिथ 3 एकड़ 66 डिसमिल जमीन का बेचने का सौदा किसान कुंवरलाल पटेल से किया था,जिसके एवज में आरोपी संजू ने 21 लाख रुपए लेकर 2 साल में रजिस्ट्री करने का बाकायदा रजिस्टर्ड एग्रीमेंट किया था,2 साल बाद एग्रीमेंट की मियाद पूरी होने पर जब पीड़ित ने आरोपी संजू ठाकुर से बकाया पैसे लेकर जमीन की रजिस्ट्री करने कहा,पहले तो आरोपी ने रजिस्ट्री करने में आनाकानी की,लेकिन जब पीड़ित ने जमीन रजिस्ट्री करने के लिए आरोपी से बार बार कहा,तो आरोपी ने पीड़ित कुंवरलाल को जान से मारने की धमकी देते हुए रजिस्ट्री करने से मना कर दिया,जिसके बाद पीड़ित ने जबलपुर पुलिस अधीक्षक से मामले की शिकायत की।

शिकायत पर एसपी ने जांच कर माढ़ोताल पुलिस को कार्यवाही करने के निर्देश दिए, जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि आरोपी ने 21 लाख रुपए लेकर जिस जमीन का पीड़ित से एग्रीमेंट किया था,उसे आरोपी ने अन्य लोगो को बेचने का काम किया है,जिस पर पुलिस ने आरोपी संजू ठाकुर के खिलाफ 420 का मामला दर्ज कर,आरोपी की तलाश शुरू कर दी है।
जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News