जबलपुर में रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा संचालित वृद्ध आश्रम के लिए खरीदे गए कई सामानों में हुआ जमकर भ्रष्टाचार, जाँच जारी

jabalpur news

Jabalpur News : जबलपुर में रेड क्रॉस सोसाइटी द्वारा संचालित 50 सीटर का वृद्ध आश्रम भवन बनाया गया था। इसके बाद वृद्ध आश्रम के लिए राज्य शासन ने लाखों रुपए की राशि भेजी, जिससे कि वहां रहने वाले बुजुर्गों के लिए कई तरह के सामान खरीदने थे। भोपाल से राशि भेजने के बाद जब सामाजिक न्याय विभाग ने इसकी जानकारी ली तो सभी के कान खड़े हो गए क्योंकि, वृद्ध आश्रम के लिए खरीदी गए कई सामानों में जमकर भ्रष्टाचार हुआ, चौंकाने वाली बात तो यह है की खरीदी गई सामग्री की जांच के लिए एक बार भौतिक सत्यापन हो चुका था, लेकिन अब दोबारा सत्यापन कराया जा रहा है।

क्या है पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक जबलपुर में 50 सीटर वृद्ध आश्रम भवन प्रारंभ होने के बाद सामग्री खरीदनी थी। सामग्री क्रय करने के लिए गुणवत्ता पर रखने के लिए एक समिति का गठन किया गया। सामाजिक न्याय एवं दिव्यांगजन सशक्तिकरण जबलपुर संभाग में पुनः भौतिक सत्यापन जब कराया तो उसमें कई तरह की खामियां मिली।

संचालक सोनम बर्वे ने रिपोर्ट में प्रतिवेदन देते हुए कहा कि भौतिक सत्यापन के समय कुछ सामग्री नहीं पाई गई है। बिल में भी जिस कंपनी की सामग्री बताई जा रही है असलियत में वह सामग्री नहीं मिली है। इतना ही नहीं बिल में जो सामग्री की कीमत दिखाई गई है वह प्राप्त सामग्री में दर्ज कीमत से अलग है। वही भौतिक सत्यापन के दौरान कुछ सामग्री की गुणवत्ता में भी काफी कमी पाई गई है। अब जब इस मामले में भोपाल की टीम ने संज्ञान लिया है तो सबके होश उड़ गए है।

जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News