जबलपुर से पाटन पहुंची वन विभाग और वन्य प्राणी विशेषज्ञ की टीम, रेस्क्यू कर बंदर को पिंजरे में किया कैद

Sanjucta Pandit
Published on -

Jabalpur News : जबलपुर के पाटन थाना अंतर्गत साहू कॉलोनी में बीते एक माह से एक खतरनाक बंदर का आतंक था। बता दें कि इस खतरनाक बंदर ने एक दर्जन से अधिक महिलाओं और बच्चों को घायल कर दिया था। जिसके बाद से ही कॉलोनी में बंदर को लेकर खौफ पैदा हो गया था। वहीं, जबलपुर से पाटन पहुंची वन विभाग और वन्य प्राणी विशेषज्ञ की टीम ने करीब 2 घंटे तक रेस्क्यू करते हुए खतरनाक बंदर को पड़कर पिंजरे में कैद किया तब जाकर कॉलोनी वासियों ने राहत की सांस ली।

पालतू जानवरों पर भी करता था हमला

स्थानीय ग्रामीण सुरेंद्र सिंह ठाकुर ने बताया कि बीते एक माह पहले अचानक ही एक बंदर कॉलोनी में आ गया था। जिसके बाद से ही इसने महिलाओं, बच्चों और घर में पले पालतू जानवरों पर हमला करना शुरू कर दिया। कई बार तो ऐसे हालात भी बने कि बंदर घर में घुसकर सामान उठा ले गया। लगातार बढ़ रहे इसके आतंक को देखते हुए आज वन विभाग की टीम वन प्राणी विशेषज्ञ धनंजय घोष के साथ गांव पहुंची और बंदर का रेस्क्यू किया।

लोगों ने ली राहत की सांस

वहीं, वन्य प्राणी विशेषज्ञ का कहना है कि बंदर मानसिक रूप से बीमार था। जिस वजह से इस तरह से हमला कर रहा था। बंदर को रेस्क्यू करने के बाद उसका अब वेटरनरी कॉलेज में इलाज करवाने के बाद उसे जंगल में छोड़ा जाएगा। खतरनाक बंदर के पकड़े जाने के बाद कॉलोनी वासियों ने राहत की सांस ली है।

संदीप कुमार, जबलपुर


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News