Morena

मुरैना, संजय दीक्षित। मध्य प्रदेश (Madhya Pradesh) के मुरैना जिले (Morena) में लॉकडाउन (Lockdown) के कारण शराब के ठेके बन्द पड़े हैं, ऐसे में शराब तस्कर यूपी (UP) से शराब तस्करी कर खुलेआम शराब बेचने के लिए नए नए तरीके अपना रहे है।इसी कड़ी में मुरैना पुलिस ने बड़ी सफलता हासिल की है।पुलिस ने 7 लाख की अवैध शराब के साथ तस्कर को गिरफ्तार किया है।

यह भी पढ़े.. MP Weather Alert: नौतपे के बीच मध्य प्रदेश के इन संभागों में बारिश के आसार

दरअसल, मादक पदार्थों पर लगाम लगाने के लिए नवागत पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार (Morena SP) और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रायसिंह नरवरिया के दिशा निर्देशन में तस्करों पर लगाम लगाने के लिए थाना प्रभारियों को दिशा निर्देश दिए गए थे। इसी निर्देशन में आज मंगलवार को सीएसपी (Morena CSP) राजेंद्र रघुवंशी के निर्देश का पालन करते हुए थाना प्रभारी अतुल सिंह ने अपनी टीम के साथ मुखबिर द्वारा बताए गए बाईपास रोड पर पहुंचकर देखा तो एक स्वराज नीला रंग की ट्रैक्टर ट्रॉली में अवैध शराब भरकर ले जा रहा था।

इस दौरान ट्रैक्टर ट्रॉली का पीछा किया तो बाईपास से गल्ला मंडी रोड पर ट्रैक्टर के चालक ने ट्रैक्टर को भगाकर गल्ला मंडी रोड राठौर कॉलोनी के पास ट्रैक्टर से प्रेशर में लगी ट्रॉली को उठाकर शराब की पेटियां पटक कर गल्ला मंडी होते हुए सिद्ध नगर की तरफ भाग गया। जब ट्रैक्टर का पीछा किया तो आरोपी का कहीं भी कोई पता नहीं चला ।पकड़ी गई शराब की कीमत करीब ₹92000 बताई गई है ।पुलिस ने अज्ञात ट्रैक्टर चालक के विरुद्ध धारा 34(2) आबकारी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर तलाश शुरू कर दी है।

यह भी पढ़े.. Sex Racket : दूसरे राज्यों से बुलाई जाती थी लड़किया, आपत्तिजनत हालत में 10 युवक-युवती गिरफ्तार

इसके साथ ही नूराबाद थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविंद ने मुखबिर की सूचना पर ग्राम सिहोरी के पुरा के खदान इंडस्ट्रियल क्षेत्र में अवैध शराब काउंटरी क्लब की 55 पेटी के साथ एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी गढ़ खदान में शराब की पेटियां छुपाकर कार से परिवहन कर रहे थे। मौके से जप्त कार में 25 पेटी व खदान से 30 पेटी अंग्रेजी शराब जप्त की गई है। जिसकी कीमत कुल ₹290000 एवं कार की कीमत करीब ₹300000 कुल कीमत ₹590,000 बताई गई है। मौके से भागे तीन आरोपी निवासी जनकपुर एवं मुरैना के विरुद्ध मामला पंजीबद्ध कर तलाश शुरू कर दी है। उक्त कार्रवाई में थाना प्रभारी अतुल सिंह, थाना प्रभारी शैलेंद्र गोविल, उप निरीक्षक आरके वर्मा, प्रधान आरक्षक अनिल दोहरे, शिव सिंह ,प्रेम नारायण गोस्वामी, साइबर सेल सर्वजीत सिंह भदोरिया की सराहनीय भूमिका रही।