सीहोर में खस्ताहाल सडक को लेकर अनोखा प्रदर्शन, गैड़ी खेलकर पूर्व विधायक के नेतृत्व में जताया विरोध

Sehore News : सीहोर में जिला मुख्यालय के समीप चितावलिया हेमा स्थित निर्माणाधीन मुरली मनोहर एवं कुबेरेश्वर महादेव मंदिर के सामने खस्ताहाल सडक को लेकर अनोखा प्रदर्शन किया गया, जहां कीचड़ में गैड़ी खेलकर पूर्व विधायक शैलेन्द्र पटेल के नेतृत्व में बड़ी संख्या में क्षेत्रवासियों और श्रद्धालुओं ने विरोध प्रदर्शन किया। बता दें कि इस मार्ग में अबतक कई लोग फिसलकर घायल भी हो चुके है। जरा सी बारिश होने के बाद यह मार्ग कीचड की दलदल में तब्दील हो जाता है।

पूर्व विधायक ने कही ये बात

इस दौरान पूर्व विधायक ने कहा कि यह खेल कीचड़ में खेला जाता है और कुबेरेश्वर धाम के सामने इतना कीचड़ है कि इस प्रतियोगिता को आयोजित करने में परेशानी नहीं होगी। कई बार प्रतियोगिता के लिए आयोजकों को कीचड़ मचाना पड़ता है लेकिन हमें कीचड़ मिल रहा है। जिसे हटाने की जिम्मेदारी सरकार की है लेकिन वो नहीं हटा रही। आगे उन्होंने कहा कि भागवत भूषण पंडित प्रदीप मिश्रा के कारण हमारे क्षेत्र का नाम विश्वभर में रोशन है। यहां हर रोज लाखों की संख्या में श्रद्धालु आते है और प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और स्थानीय विधायक करण सिंह वर्मा को इसी चिंता ही नहीं है। बता दें कि इस खेल में सैंकड़ो ग्रामीणों ने भाग लिया और क्षेत्रवासियों ने गैड़ी पर चलकर तालाब रूपी सडक को पार किया।

श्रद्धालुओं को होती है परेशानी

दरअसल, कुबेरेश्वर धाम के सामने की रोड पूरी तरह से उखड़ चुकी है। यहां कीचड़ मचा हुआ है। जिससे परेशान होकर ग्रामीणों और श्रद्धालुओं को गुजरना पड़ता है। आमजन की इस समस्या को देखते हुए और उनकी बात शासन-प्रशासन तक पहुंचाने की मंशा के साथ शैलेंद्र पटेल ने यह अनोखा प्रदर्शन किया है। इस दौरान सरपंच प्रतिनिधि धर्म सिंह मेवाड़ा ने बताया कि लंबे समय से यह रोड खस्ताहाल है। इस रोड की स्वीकृति हो चुकी है लेकिन, इसका निर्माण नहीं हो रहा है। इसमें इतने गड्ढे है कि ग्रामीणों और श्रद्धालुओं को अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

गैड़ी खेल खेलकर किया विरोध

खस्ताहाल सडक होने के कारण इस तरह का अनूठा प्रदर्शन किया गया। उन्होंने कहा कि यहां के जनप्रतिनिधियों को शर्म करना चाहिए कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा को यहां पर आकर रोड के निर्माण कराने के लिए कार्य करना पड़ रहा है। बरसात के दिनों में मालवा के कई क्षेत्रों में कीचड़ में गैड़ी खेल खेला जाता है। इस खेल को लोग मनोरंजन के लिए खेलते हैं। हांलाकि, अब इसकी परंपरा विलुप्त होती जा रही है। इस विलुप्त होती परंपरा के जरिए इछावर विधान सभा क्षेत्र के पूर्व विधायक शैलेंद्र पटेल के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया।

सीहोर से अनुराग शर्मा की रिपोर्ट


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News