कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, मानदेय-वेतन वृद्धि, एरियर का हो सकता है भुगतान, बजट में घोषणा संभव, जानें अपडेट

Employees Honorarium-Salary Hike : राज्य के कर्मचारियों को बकाया महंगाई भत्ता सहित एरियर के भुगतान को लेकर संभावनाएं तेज हो गई है। दरअसल 17 मार्च को राज्य सरकार बजट पेश करने जा रही है। ऐसे में कर्मचारियों को उम्मीद है कि उनके एरियर के भुगतान पर सरकार जल्द ही राशि आवंटित कर सकती है। इसके अलावा हजारों अस्थाई कर्मचारी के मानदेय में भी बढ़ोतरी की उम्मीद जताई जा रही है। वही आउटसोर्स कर्मचारियों के लिए भी कोई पॉलिसी बनने की संभावना तेज है।

17 मार्च को पेश किया जाना बजट

हिमाचल के सुखविंदर सिंह सरकार के द्वारा 17 मार्च को बजट पेश किया जाना है। ऐसे में कर्मचारी संशोधित वेतनमान एरियर और डीए सहित महंगाई भत्ते की लंबित किस्तों का इंतजार कर रहे हैं। वही माना जा रहा है कि बजट में इसके लिए सरकार बड़ी घोषणा कर सकती है। साथ ही कर्मचारियों को 31 फीसद महंगाई भत्ते उपलब्ध कराये जा रहे हैं जबकि केंद्रीय कर्मचारियों के महंगाई भत्ते 31 फीसद है। DA वृद्धि पर भी हिमाचल सरकार द्वारा फैसला लिए जाने की उम्मीद जताई जा रही है। इन एरियर किस्तों में जनवरी 2022 की तीन फीसद की किस्त के अलावा जुलाई 2022 की 4 फीसद किस्त शामिल है।

एरियर का लाभ संभव 

हिमाचल में कर्मचारियों को संशोधित वेतनमान 2022 का लाभ दिया जाएगा। इसे 2016 से लागू किया जाना है। कर्मचारियों को 2016 से 2022 तक के एरियर का भुगतान किया जाना है। पूर्व की जयराम सरकार द्वारा चतुर्थ श्रेणी कर्मचारियों को ₹60000 की एकमुश्त भुगतान करने और बाकी कर्मचारियों को ₹50000 देने का ऐलान किया गया था। हालांकि कर्मचारियों को एरियर का लाभ नहीं मिल पाया। वहीं मुख्यमंत्री का पदभार ग्रहण करते हुए सीएम सुखविंदर भी कह चुके हैं कि संशोधित वेतनमान के एरियर देने की स्थिति में सरकार नहीं है लेकिन कर्मचारियों को उम्मीद है कि बजट में इसकी घोषणा की जा सकती है।

पुरानी पेंशन योजना को मंजूरी

इसके अलावा आउट सोर्स और अस्थाई कर्मचारियों के लिए भी बजट में बड़ी घोषणा की जा सकती है। चुनाव से पहले पारदर्शी नीति बनाने की घोषणा की गई थी। ऐसे में आउटसोर्स कर्मचारी बजट में कोई ना कोई पॉलिसी बनाए जाने की आस लगाए बैठे हैं। वहीं सैकड़ों कर्मचारी की नजर भी बजट पर है। मिड डे मील वर्कर के अलावा आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को भी अस्थाई तौर पर मानदेय वृद्धि का इंतजार है। इससे पहले पंजाब में पुरानी पेंशन योजना को मंजूरी दी जा चुकी है। पुरानी पेंशन योजना का लाभ 136000 कर्मचारियों को मिल रहा है। वहीं अब कर्मचारी संशोधित वेतनमान के एरियर सहित बचे हुए महंगाई भत्ते में वृद्धि की राह देख रहे हैं।


About Author
Kashish Trivedi

Kashish Trivedi

Other Latest News