दिल्ली में लॉकडाउन को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल का बड़ा बयान, पढ़िए पूरी खबर

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सोमवार को DDMA की बैठक में एक्सपर्ट की राय लेकर, आगे क्या करना है इस बारे में फैसला लिया जायेगा।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। दिल्ली में कोरोना (Corona In Delhi) की रफ्तार जोर पकड़ चुकी है। रोज हजारों की संख्या में नए कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आ रहे हैं। दिल्ली सरकार ने नाइट कर्फ्यू और वीकेंड कर्फ्यू लगा हुआ है बावजूद इसके लोग लॉकडाउन (Lock Down) को लेकर आशंकित हैं। कोरोना से रिकवर होकर लौटे मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस कर स्पष्ट किया कि फ़िलहाल लॉकडाउन लगाने जैसी कोई मंशा नहीं है।

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (CM Arvind Kejriwal) ने दिल्लीवासियों से अपील करते हुए कहा कि घबराने की जरुरत नहीं है हम सबको मिलकर जिम्मेदारी के साथ काम करना है। उन्होंने कहा कि कोरोना के केस तो बढ़ रहे हैं लेकिन अच्छी बात ये हैं कि ज्यादातर लोगों को अस्पताल जाने की जरुरत नहीं पड़ रही है। उन्होंने कहा कि आज 22000 नए केस आने की सम्भावना हैं लेकिन पैनिक नहीं होना है।

ये भी पढ़ें – MP News: मध्य प्रदेश के दो दिग्गज नेता कोरोना पॉजिटिव, दोनों ने खुद ट्वीट कर दी जानकारी

सीएम अरविंद केजरीवाल ने कहा कि सोमवार को DDMA की बैठक है जिसमें एक्सपर्ट की राय ली जाएगी वर्तमान हालातों की समीक्षा की जाएगी उसके बाद आगे क्या सख्ती करनी है उसपर फैसला लिया जाएगा।  उन्होंने सभी से मास्क आवश्यक रूप से लगाने की अपील की।

ये भी पढ़ें – डॉक्टर के पर्चे के बिना नहीं मिलेगी कोरोना जैसे लक्षणों की दवा

कोरोना से रिकवर होकर एक सप्ताह बाद वापस लौटे सीएम अरविंद केजरीवाल ने अपना अनुभव सुनाते हुए बताया कि मुझे दो दिन बुखार रहा फिर ठीक रहा, लेकिन में दिल्ली में बढ़ती कोरोना की रफ़्तार से चिंतित था और अधिकारियों से लगातार मोबाइल फोन पर संपर्क में था।