कृषि सखी के रूप में माताएं बहनें खेती को एक नई दिशा प्रदान करेंगी : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

ये बहुत बड़ी Victory है और बहुत बड़ा विश्वास है। आपका ये विश्वास मेरी बहुत बड़ी पूंजी है। आपका ये विश्वास मुझे लगातार आपकी सेवा के लिए, देश को नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा देता है। मैं दिन-रात ऐसे ही मेहनत करूंगा, आपके सपनों और संकल्पों को पूरा करने के लिए हर प्रयास करूंगा।

Amit Sengar
Published on -
pm modi

PM Narendra Modi in Varanasi : तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी मंगलवार को दो दिवसीय दौरे पर वाराणसी पहुंचे। पीएम ने वाराणसी से किसानों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि की 17वीं किस्त ट्रान्सफर की। जिससे 20 हजार करोड़ रुपए किसानों के खाते में डाले। साथ ही उन्होंने आज 30 हजार से अधिक स्वयं सहायता समूहों को कृषि सखी के रूप में प्रमाण पत्र दिए हैं।

तीसरी बार अपना प्रतिनिधि चुनकर कर दिया धन्य : पीएम

बता दें कि वाराणसी में पीएम-किसान सम्मान सम्मेलन को संबोधित करते हुए कहा कि बाबा विश्वनाथ और मां गंगा के आशीर्वाद से, काशीवासियों के असीम स्नेह से मुझे तीसरी बार देश का प्रधान सेवक बनने का सौभाग्य मिला है। काशी के लोगों ने मुझे लगातार तीसरी बार अपना प्रतिनिधि चुनकर धन्य कर दिया है। इस चुनाव में देश के लोगों ने जो जनादेश दिया है, वो वाकई अभूतपूर्व है। इस जनादेश ने एक नया इतिहास रचा है। आपका ये विश्वास मुझे लगातार आपकी सेवा के लिए, देश को नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा देता है। मैं दिन-रात ऐसे ही मेहनत करूंगा, आपके सपनों और संकल्पों को पूरा करने के लिए हर प्रयास करूंगा।

मोदी का फोकस किसान, महिला, विकास और काशी पर रहा

आगे उन्होंने कहा कि हमारी काशी संस्कृति की राजधानी रही है। हमारी काशी ज्ञान की राजधानी रही है। हमारी काशी सर्वविद्या की राजधानी रही है। लेकिन इन सबके साथ-साथ काशी एक ऐसी नगरी बनी है, जिसने सारी दुनिया को ये दिखाया है कि हेरिटेज सिटी भी अर्बन डेवलमेंट का नया अध्याय लिख सकती है। विकास भी और विरासत भी… का मंत्र भी काशी में हर जगह दिखाई दे रहा है। पिछले 10 वर्षों में काशी के किसानों के लिए केंद्र सरकार और राज्य सरकार (पिछले 7 साल से राज्य सरकार को मौका मिला है) ने पूरे समर्पण भाव से काम किया है।

पीएम ने कहा कि मैंने किसान, नौजवान, नारीशक्ति और गरीब को विकसित भारत का मजबूत स्तंभ माना है। अपने तीसरे कार्यकाल की शुरुआत मैंने इन्हीं के सशक्तिकरण से की है। सरकार बनते ही सबसे बड़ा किसान और गरीब परिवारों से जुड़ा फैसला लिया गया है। देश में गरीब परिवारों के लिए 3 करोड़ नए घर बनाने हों या फिर पीएम किसान सम्मान निधि को आगे बढ़ाना हो… ये फैसले करोड़ों-करोड़ों लोगों की मदद करेंगे।

ये बहुत बड़ी Victory है और बहुत बड़ा विश्वास है। आपका ये विश्वास मेरी बहुत बड़ी पूंजी है। आपका ये विश्वास मुझे लगातार आपकी सेवा के लिए, देश को नई ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए कड़ी मेहनत करने की प्रेरणा देता है। मैं दिन-रात ऐसे ही मेहनत करूंगा, आपके सपनों और संकल्पों को पूरा करने के लिए हर प्रयास करूंगा।

घाट पर मां गंगा की करेंगे पूजन अर्चना 

पीएम थोड़ी देर में 8 किमी लंबा रोड-शो करेंगे। इसके बाद कालभैरव और बाबा विश्वनाथ का षोडशोपचार कर विशेष पूजन करेंगे। घाट पर मां गंगा का दुग्धाभिषेक कर पूजन करेंगे। गंगा आरती में भी शामिल होंगे। यह प्रधानमंत्री का 51 वां वाराणसी दौरा है।


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News