पवार होंगे विपक्ष के राष्ट्रपति उम्मीदवार! गांधी परिवार से प्रशांत किशोर की मुलाकात के क्या है मायने?

बहरहाल प्रशांत किशोर की गांधी परिवार से मुलाकात में क्या चर्चा हुई ये तो स्पष्ट नहीं हो सका है लेकिन सूत्रों के हवाले से और मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर जो खबरें आ रही हैं उसने सियासी पारे में तो उछाल ला दिया है।   

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर और गांधी परिवार के सदस्यों के बीच मंगलवार को हुई मुलाकात ने सियासी हवाओं को तेज कर दिया है।  इस मुलाकात में क्या हुआ किन किन मुद्दों पर बात हुई ये तो स्पष्ट नहीं हो सका है लेकिन जो बात सूत्रों के हवाले से बाहर निकल कर आ रही है उसके मुताबिक मुलाकात में राष्ट्रपति चुनाव पर चर्चा हुई और इसमें वरिष्ठ नेता शरद पवार का नाम विपक्ष के उम्मीदवार के रूप में सामने आया है ।

दिल्ली में अरविन्द केजरीवाल को सत्ता तक पहुँचाने वाले प्रशांत किशोर ने हाल ही में बंगाल में ममता बनर्जी को सत्ता की चाबी हासिल करने में बड़ी भूमिका निभाई है। पिछले दिनों NCP प्रमुख शरद पवार से दो बार मुलाकात कर चुके प्रशांत किशोर ने एक बार फिर सियासी हवाओं को गर्म किया था। सूत्रों के हवाले से खबर आई थी भारतीय जनता पार्टी के खिलाफ तीसरे मोर्चे या कोई नए सियासी समीकरण पर चर्चा के लिए दोनों की मुलकात हुई है।

ये भी पढ़ें – कैबिनेट में जल्द बदलाव करेंगे सीएम! 2 मंत्री पर गिरेगी गाज, जाने मामला

मंगलवार को एक बार फिर प्रशांत किशोर चर्चा में आये।  उन्होंने राहुल गांधी के सांसद आवास पर उनसे मुलाकात की, प्रियंका गांधी भी इस दौरान वहां मौजूद थी, इसके अलावा इस मीटिंग में सोनिया गांधी भी वर्चुअली रूप से शामिल हुई।  मीडिया में जब इस मुलाकात की जानकारी सामने आई तो कयास लगाए गए कि पंजाब और उत्तरप्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनावों की रणनीति पर चर्चा के लिए प्रशांत किशोर को गांधी परिवार ने बुलाया है।

ये भी पढ़ें – क्या पंजाब में Congress के लिए संकटमोचन बनेंगे Kamalnath! ये है पूरा मामला

लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से जो खबर निकल कर आ रही है वो ये है कि प्रशांत किशोर की राहुल, प्रियंका और सोनिया गांधी से राष्ट्रपति पद के चुनाव पर चर्चा हुई है।  सूत्रों के मुताबिक बैठक में राष्ट्रपति पद के लिए शरद पवार का नाम विपक्षी दलों की पसंद के तौर पर सामने आया है।  बहरहाल प्रशांत किशोर की गांधी परिवार से मुलाकात में क्या चर्चा हुई ये तो स्पष्ट नहीं हो सका है लेकिन सूत्रों के हवाले से और मीडिया रिपोर्ट्स के आधार पर जो खबरें आ रही हैं उसने सियासी पारे में तो उछाल ला दिया है।

ये भी पढ़ें – दिग्विजय सिंह ने बताया – BJP क्यों करती है फ्रॉड बाबा को पसंद, की पूर्व स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन की तारीफ