Nirjala Ekadashi: निर्जला एकादशी व्रत और दान का महत्व, जानिए राशि अनुसार क्या करें

Nirjala Ekadashi: निर्जला एकादशी, जिसे अषाढ़ी एकादशी या कमला एकादशी के नाम से भी जाना जाता है, हिंदू धर्म में सबसे महत्वपूर्ण एकादशियों में से एक है। यह वर्ष में दो बार आती है, एक बार जून में और दूसरी बार नवंबर में। यह व्रत भगवान विष्णु को समर्पित है और माना जाता है कि इस दिन व्रत रखने और दान करने से पुण्य प्राप्त होता है और मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

ekadshi

Nirjala Ekadashi: हर माह कृष्ण और शुक्ल पक्ष की एकादशी तिथि भगवान विष्णु को समर्पित होती है। इन दिनों में भगवान विष्णु की पूजा की जाती है और मनोवांछित फल की प्राप्ति के लिए एकादशी का व्रत रखा जाता है। ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की एकादशी को निर्जला एकादशी कहा जाता है। यह व्रत अन्य एकादशियों से भिन्न है क्योंकि इसमें जल ग्रहण (पानी पीना) वर्जित है। गरुड़ पुराण के अनुसार, निर्जला एकादशी व्रत करने वाले साधक को मोक्ष की प्राप्ति होती है और मृत्यु के पश्चात यम यातना का सामना नहीं करना पड़ता। भगवान विष्णु या उनके दूत स्वयं व्रती को लेने आते हैं। इस व्रत का पालन करने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है, पापों का नाश होता है और मनोवांछित फल की प्राप्ति होती है। इस दिन व्रत रखने और दान करने से पुण्य प्राप्त होता है और मनोकामनाएं पूरी होती हैं।

जानिए राशि अनुसार किन चीजों का करें

मेष राशि

मेष राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर तरबूज का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। तरबूज जल का प्रतीक है और मेष राशि अग्नि तत्व से संबंधित है। इसलिए, तरबूज का दान करने से मेष राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है और मन में शांति का अनुभव होता है।

वृषभ राशि

वृषभ राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर दूध और चावल का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। दूध पवित्रता और समृद्धि का प्रतीक है, जबकि चावल अन्न और पोषण का प्रतीक है। इसलिए, दूध और चावल का दान करने से वृषभ राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है।

मिथुन राशि

मिथुन राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर आम का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। आम फल समृद्धि और सौभाग्य का प्रतीक है।इसलिए, आम का दान करने से मिथुन राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है।

कर्क राशि

कर्क राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर दूध और जल का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। दूध पवित्रता और समृद्धि का प्रतीक है, जबकि जल जीवन और शुद्धि का प्रतीक है। इसलिए, दूध और जल का दान करने से कर्क राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है।

सिंह राशि

सिंह राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर विष्णु चालीसा का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। विष्णु चालीसा भगवान विष्णु की भक्ति का एक प्रसिद्ध ग्रंथ है। इसका पाठ करने और दान करने से भगवान विष्णु की कृपा प्राप्त होती है और जीवन में सुख-समृद्धि आती है।

कन्या राशि

कन्या राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर आम और पन्ना का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। आम फल समृद्धि और सौभाग्य का प्रतीक है, जबकि पन्ना रत्न बुद्धि और ज्ञान का प्रतीक है। इसलिए, आम और पन्ना का दान करने से कन्या राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-समृद्धि आती है और बुद्धि एवं ज्ञान में वृद्धि होती है।

तुला राशि

तुला राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर सफेद वस्त्र का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। सफेद रंग पवित्रता और शांति का प्रतीक है।
इसलिए, सफेद वस्त्र का दान करने से तुला राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-शांति आती है और मन शांत होता है।

वृश्चिक राशि

वृश्चिक राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर गुड़ और मसूर की दाल का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। गुड़ मीठा होता है और मसूर की दाल पौष्टिक होती है। इसलिए, गुड़ और मसूर की दाल का दान करने से वृश्चिक राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-समृद्धि आती है और स्वास्थ्य अच्छा रहता है।

धनु राशि

धनु राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर केसर युक्त दूध का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। केसर सबसे महंगा और पवित्र मसाला माना जाता है। दूध पोषण और शक्ति का प्रतीक है। इसलिए, केसर युक्त दूध का दान करने से धनु राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-समृद्धि आती है और रोगों से मुक्ति मिलती है।

मकर राशि

मकर राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर उड़द की दाल का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। उड़द की दाल पौष्टिक और सात्विक होती है। इसलिए, उड़द की दाल का दान करने से मकर राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-समृद्धि आती है और रोगों से मुक्ति मिलती है।

कुंभ राशि

कुंभ राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर नीला वस्त्र और धन का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। नीला रंग शांति और समृद्धि का प्रतीक है। धन का दान करने से पुण्य की वृद्धि होती है और ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है।

मीन राशि

मीन राशि के जातकों के लिए निर्जला एकादशी पर पीले रंग के वस्त्र का दान करना विशेष रूप से शुभ माना जाता है। पीला रंग सुख-समृद्धि और विष्णु भगवान का प्रतीक है। इसलिए, पीले वस्त्र का दान करने से मीन राशि के जातकों को ग्रहों की शुभता प्राप्त होती है, जीवन में सुख-समृद्धि आती है और मन शांत होता है।

(Disclaimer- यहां दी गई जानकारी सामान्य मान्यताओं के आधार पर बताई गई है। MP Breaking News इसकी पुष्टि नहीं करता।)

 


About Author
भावना चौबे

भावना चौबे

इस रंगीन दुनिया में खबरों का अपना अलग ही रंग होता है। यह रंग इतना चमकदार होता है कि सभी की आंखें खोल देता है। यह कहना बिल्कुल गलत नहीं होगा कि कलम में बहुत ताकत होती है। इसी ताकत को बरकरार रखने के लिए मैं हर रोज पत्रकारिता के नए-नए पहलुओं को समझती और सीखती हूं। मैंने श्री वैष्णव इंस्टिट्यूट ऑफ़ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन इंदौर से बीए स्नातक किया है। अपनी रुचि को आगे बढ़ाते हुए, मैं अब DAVV यूनिवर्सिटी में इसी विषय में स्नातकोत्तर कर रही हूं। पत्रकारिता का यह सफर अभी शुरू हुआ है, लेकिन मैं इसमें आगे बढ़ने के लिए उत्सुक हूं। मुझे कंटेंट राइटिंग, कॉपी राइटिंग और वॉइस ओवर का अच्छा ज्ञान है। मुझे मनोरंजन, जीवनशैली और धर्म जैसे विषयों पर लिखना अच्छा लगता है। मेरा मानना है कि पत्रकारिता समाज का दर्पण है। यह समाज को सच दिखाने और लोगों को जागरूक करने का एक महत्वपूर्ण माध्यम है। मैं अपनी लेखनी के माध्यम से समाज में सकारात्मक बदलाव लाने का प्रयास करूंगी।

Other Latest News