Republic Day: इस बार गणतंत्र दिवस पर अतिथि होंगे, ऑटो-रिक्शा चालक, सफाई कर्मचारी, निर्माण श्रमिक और फ्रंटलाइन वर्कर्स

गणतंत्र दिवस पर इस बार विदेशी मेहमानों की अनुपस्थिति का कारण बना कोरोनावायरस।

नई दिल्ली, डेस्क रिपोर्ट। कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस बार 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस पर (Republic Day) मुख्य अतिथि के रूप में कोई विदेशी मेहमान नहीं होगा। वैश्विक दर्शकों के लिए आकर्षण का केंद्र गणतंत्र दिवस इस बार स्थानीय मेहमानों की मौजुदगी में मनाया जाएगा। गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में ऑटो-रिक्शा चालक, सफाई कर्मचारी, निर्माण श्रमिक और फ्रंटलाइन वर्कर्स शामिल होंगे।

यहां भी देखें- Indore news: पत्नी के इल्जामों से परेशान पति फांसी के फंदे पर झूला

राजपथ पर गणतंत्र दिवस समारोह में सभी वर्गों के लोगों को आमंत्रित किया गया है। जिनकी तादाद 8000 से अधिक नहीं होगी। रक्षा मंत्रालय के एक अधिकारी ने इस बारे में कहा कि उन लोगों को मौका देने के लिए एक विशेष प्रयास किया गया है, जिन्हें कभी भी उत्सव देखने का अवसर नहीं मिलता है।

यहां भी देखें- Indore news: जवान से रायफल लूटने वाले को पुलिस ने धर दबोचा, अन्य चार की तलाश जारी

Covid-19 के बढ़ते मामलों के बीच गणतंत्र दिवस का आयोजन कई प्रतिबंधों के तहत होगा। गणतंत्र दिवस में फिजिकलि शामिल होने वाले लोगों की संख्या 5,000 से 8,000 के बीच हो सकती है, जो पिछले साल के दर्शकों की संख्या 25,000 से काफी कम है।

यहां भी देखें- MP News: भोपाल-बिलासपुर एक्सप्रेस समेत ये ट्रेनें निरस्त, किराया होगा वापस, देखें लिस्ट

मंत्रालय ने अपने आधिकारिक बयान में कहा है कि, COVID-19 खतरे को ध्यान में रखते हुए, केवल वैक्सीन के दोनों डोज ले चुके मेहमानों को ही शामिल होने की अनुमति दी जाएगी, जिन्हें बाड़ों में छह फीट की दूरी बनाए रखने, मास्क पहनने और अन्य कोविड प्रोटोकॉल का पालन करने का अनुरोध किया जाएगा। सभी मेहमानों को थर्मल स्क्रीनिंग से गुजरना होगा।
 
गौरतलब है कि कोरोनावायरस की तीसरी लहर के चलते यह सभी सावधानियां बरती जा रही है।