Shani Dev: कुंभ राशि में उल्टी चाल चलेंगे शनि देव, इन नियमों का करें पालन, शुभ फलों की होगी प्राप्ति

शनि देव की वक्री चाल के दौरान कुछ नियमों का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण है, ताकि उनके प्रतिकूल प्रभाव से बचा जा सके और शुभ फल प्राप्त किए जा सकें।

Sanjucta Pandit
Published on -
shani dev

Shani Dev : भगवान शनि को न्याय का स्वामी और कर्म फलदाता माना जाता है। दरअसल, वह अपने भक्तों को उनके किए गए कर्मों के अनुसार परिणाम देते हैं। इसलिए उन्हें न्याय का देवता भी कहा जाता है। उनकी कुदृष्टि इंसान के जीवन को तबाह करने की क्षमता रखती है। वहीं, शनि देव अगर आपसे प्रसन्न हो जाए तो आपको कभी किसी चीज की कोई कमी नहीं होने देते। बता दें कि शनिवार को शनि देव का दिन माना जाता है। इस दिन लोग साफ वस्त्र पहनकर मंदिर में उनकी पूजा अर्चना करते हैं, ताकि शनि की ढैया और साडेसाती से बचा जा सके। इसके अलावा, शनि की महादशा भी 19 वर्षों तक चलती है जोकि बहुत ही कष्टकारी माना जाता है। शनि देव की पूजा करने से व्यक्ति के जीवन में कई तरह की बाधाएं और समस्याएं दूर हो सकती हैं और उन्हें सभी कार्यों में सफलता प्राप्त होती है।

Shani Dev: कुंभ राशि में उल्टी चाल चलेंगे शनि देव, इन नियमों का करें पालन, शुभ फलों की होगी प्राप्ति

ज्योतिष शास्त्रों के अनुसार, 30 जून को शनि देव अपनी प्रिय राशि कुंभ में उल्टी चाल शुरू करेंगे, जिसका असर विभिन्न राशियों पर पड़ेगा। बता दें कि ज्योतिष शास्त्र में शनि की उल्टी चाल (वक्री गति) का विशेष महत्व होता है। शनि देव की वक्री चाल के दौरान कुछ नियमों का पालन करना बहुत महत्वपूर्ण है, ताकि उनके प्रतिकूल प्रभाव से बचा जा सके और शुभ फल प्राप्त किए जा सकें।

इन नियमों का करें पालन

  • अपने सभी कार्यों में सच्चाई और ईमानदारी का पालन करें। किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी और अनैतिक कार्यों से बचें।
  • धैर्य और संयम बनाए रखें। वक्री शनि के प्रभाव से कार्यों में बाधाएं आ सकती हैं, लेकिन संयम और धैर्य से उन्हें हल करें।
  • शनि देव की नियमित पूजा करें। शनिवार को विशेष रूप से शनि देव की आराधना करें।
  • हनुमान जी की पूजा करें और हनुमान चालीसा का पाठ करें। हनुमान जी की कृपा से शनि देव के प्रतिकूल प्रभाव से बचा जा सकता है।
  • जरूरतमंदों की सेवा करें और दान करें। काले वस्त्र, काले तिल, काले उड़द, सरसों का तेल, लोहे की वस्तुएं, जूते-चप्पल आदि का दान करें।
  • नकारात्मक विचारों और भावनाओं से दूर रहें। अपने मन को शांत और सकारात्मक बनाए रखें।
  • इस दौरान कर्ज लेने और उधार देने से बचें। वित्तीय मामलों में सोच-समझकर निर्णय लें।

करें ये उपाय

  • शनिवार के दिन पीपल के पेड़ के नीचे सरसों के तेल का दीपक जलाएं।
  • काले तिल का दान करें और अपने भोजन में काले तिल का प्रयोग करें।
  • नियमित ध्यान और योग का अभ्यास करें, इससे मानसिक शांति मिलेगी।

इन मंत्रों का करें जाप

  • ॐ शं शनैश्चराय नमः
  • ॐ प्रां प्रीं प्रौं सः शनैश्चराय नमः
  • शनैश्चराय नमः

(Disclaimer: यहां मुहैया सूचना सिर्फ मान्यताओं और जानकारियों पर आधारित है। MP Breaking News किसी भी तरह की मान्यता, जानकारी की पुष्टि नहीं करता है। किसी भी जानकारी या मान्यता को अमल में लाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से सलाह लें।)


About Author
Sanjucta Pandit

Sanjucta Pandit

मैं संयुक्ता पंडित वर्ष 2022 से MP Breaking में बतौर सीनियर कंटेंट राइटर काम कर रही हूँ। डिप्लोमा इन मास कम्युनिकेशन और बीए की पढ़ाई करने के बाद से ही मुझे पत्रकार बनना था। जिसके लिए मैं लगातार मध्य प्रदेश की ऑनलाइन वेब साइट्स लाइव इंडिया, VIP News Channel, Khabar Bharat में काम किया है। पत्रकारिता लोकतंत्र का अघोषित चौथा स्तंभ माना जाता है। जिसका मुख्य काम है लोगों की बात को सरकार तक पहुंचाना। इसलिए मैं पिछले 5 सालों से इस क्षेत्र में कार्य कर रही हुं।

Other Latest News